लाइव टीवी

परमहंस दास का ऐलान, राम मंदिर के निर्माण की घोषणा न होने पर करेंगे आत्मदाह
Sant-Ravidas-Nagar News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 2, 2018, 8:45 PM IST

योध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए कानून बनाने की मांग संत समाज लगातार कर रहा है. जिसको लेकर संतो द्वारा लगातार सरकार पर दबाब बनाने के लिए कई तरह के आयोजन किये जा रहे हैं.

  • Share this:
अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की मांग को लेकर संत लगातार सरकार पर दबाब बना रहे है. तपस्वी छावनी अयोध्या के संत परमहंस दास ने 6 दिसंबर तक मंदिर के निर्माण की घोषणा न होने पर आत्मदाह की घोषणा की है. आत्मदाह के लिए पूजा की मिट्टी लेने वह भदोही जिले में स्थित सीता समाहित स्थल पहुंचे है. जहां से उन्होंने कलश में मंदिर प्रांगण के सीता केश वाटिका से मिट्टी कलश में भरी है. उनका कहना है कि मां सीता के चरणों की इसी मिट्टी को मस्तक पर धारण कर वह 6 दिसंबर को चिता पर बैठेंगे.

गौरतलब है कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए कानून बनाने की मांग संत समाज लगातार कर रहा है. जिसको लेकर संतो द्वारा लगातार सरकार पर दबाब बनाने के लिए कई तरह के आयोजन किये जा रहे हैं. बीते दिनों अयोध्या की तपस्वी छावनी के संत परमहंस दास तब चर्चा में आये थे. जब उन्होंने मंदिर निर्माण की मांग को लेकर लम्बे समय तक आमरण अनसन किया था.

हालांकि अब एक बार फिर परमहंस दास ने बड़ी घोषणा की है. उन्होंने ऐलान किया है की अगर 6 दिसंबर तक सरकार मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने की घोषणा नहीं करती है, तो वह अयोध्या में चिता पर बैठकर जल जायेंगे. जिसको लेकर उन्होंने बीते दिनों अयोध्या में चिता की लकड़िया भी रखी थी.



भदोही जिले के सीतामढ़ी इलाके में बाल्मीकि आश्रम के पास सीता समाहित स्थल है. जहां संत परमहंस दास समाहित स्थल से मिट्टी लेने आये हैं. रविवार को उन्होंने मंदिर प्रांगण से सीता केश वाटिका से कलश में मिट्टी भरी है और मां सीता के मंदिर में विधि विधान से मिट्टी की पूजा अर्चना कर मिट्टी लेकर अयोध्या के लिए रवाना हो गए.



उन्होंने बताया की भगवान राम का कोई भी कार्य मां सीता के आर्शीवाद के बिना पूरा नहीं हो सकता. इसलिए वह उस भूमि पर आये हैं, जहां मां सीता धरती में समाहित हुई थीं. वह जो मिट्टी कलश में लेकर जा रहे हैं. उसी मिट्टी को 6 दिसंबर  को अपने मस्तक पर धारण करके चिता पर बैठेंगे और आत्मदाह करेंगे.

उन्होंने यह भी बयान दिया है कि भाजपा ने विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल को खत्म कर दिया है.  आरएसएस सिर्फ है जो भाजपा की रीढ़ की हड्डी है, लेकिन इस समय भाजपा को बचाने के लिए आरएसएस हर संभव प्रयास कर रहा है.  उन्होंने आरोप लगाया कि नरेन्द्र मोदी आरएसएस को खत्म करने का प्रयास कर रहे हैं.  (रिपोर्ट- दिनेश पटेल) 

ये भी पढ़ें:

अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए हिंदू, मुस्लिम, ईसाई सभी को आगे आना होगा: सरयू राय

CM योगी ने कहा, 'हमें राम मंदिर निर्माण की तैयारियां शुरू करनी चाहिए'

कुंभ मेले से पहले हो जाए राम मंदिर निर्माण की शुरुआत: महंत नरेंद्र गिरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए संत रविदास नगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2018, 7:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading