लाइव टीवी
Elec-widget

अब पूर्व शिष्या के साथ सात साल पुराने रेप के मामले में बढ़ीं चिन्मयानंद की मुश्किलें, 13 दिसंबर को सुनवाई

Deep Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 28, 2019, 1:13 PM IST
अब पूर्व शिष्या के साथ सात साल पुराने रेप के मामले में बढ़ीं चिन्मयानंद की मुश्किलें, 13 दिसंबर को सुनवाई
चिन्मयानंद के खिलाफ 7 साल पुराने रेप केस में कोर्ट ने 13 दिसंबर सुनवाई की तारीख तय की है. (फाइल फोटो)

आरोप है कि चिन्मयानंद (Chinmayanand) ने अपनी एक शिष्या का यौन शोषण (Sexual Harassment) किया था. अब कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई की तिथि तय की है.

  • Share this:
शाहजहांपुर. लॉ छात्रा (Law Student) के यौन शोषण मामले में जेल में बंद पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद (Swami Chinmayanand) की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं. पूर्व शिष्‍या से रेप के सात साल पुराने मामले में अदालत 13 दिसंबर को सुनवाई करेगी. बता दें कि इस समय चिन्मयानंद लॉ छात्रा के यौन शोषण के मामले में जेल में बंद हैं. आरोप है कि चिन्मयानंद द्वारा अपनी एक शिष्या के साथ यौन शोषण किया था. बाद में उन्होंने उसे अपने ही संस्थान में प्राचार्य बना दिया था. यह केस वर्ष 2012 में शाहजहांपुर (Shahjahanpur) के शहर कोतवाली में दर्ज किया गया था.

दाखिल हो चुकी है चार्जशीट
पीड़िता के अधिवक्ता मुकेश कुमार गुप्ता ने बताया कि स्वामी चिन्मयानंद पर उनके ही कॉलेज की प्राचार्य के यौन शोषण का मामला शहर कोतवाली में दर्ज कराया गया था. इसमें पुलिस ने 23 अक्टूबर 2012 में चार्जशीट दाखिल कर दिया था. यह मामला अभी तक न्यायालय में विचाराधीन है.

2018 में जारी हुआ था वारंट

मुकेश गुप्‍ता ने बताया कि 24 मई 2018 को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के कोर्ट में प्रदेश सरकार द्वारा चिन्मयानंद पर चल रहे बलात्कार का मुकदमा वापस लेने का प्रार्थना पत्र भेजा गया. इसपर पीड़िता द्वारा आपत्ति दाखिल की गई और उसकी आपत्ति को देखते हुए न्यायालय ने मुकदमा वापस लेने का प्रार्थना पत्र खारिज कर दिया. साथ ही जमानती वारंट भी जारी कर दिया गया था. उन्होंने बताया कि इसके बाद स्वामी चिन्मयानंद हाईकोर्ट चले गए और वहां से उन्होंने अदालत द्वारा की जा रही कार्रवाई को रोकने का स्थगन आदेश प्राप्त कर लिया. इसके बाद चिन्मयानंद दुष्कर्म की पत्रावली हाई कोर्ट भेज दी गई, जिसे अब पुनः हाईकोर्ट ने यह पत्रावली शाहजहांपुर न्यायालय भेज दी है.

13 दिसंबर मुकदमे की तारीख
अधिवक्ता ने बताया कि यहां माननीयों के लिए एक कोर्ट बना दिया गया है, इसी न्यायालय के अपर जिला जज तृतीय नरेंद्र कुमार पांडे ने स्वामी चिन्मयानंद दुष्कर्म के इस मुकदमे में 13 दिसंबर को सुनवाई की तिथि तय की है.
Loading...

बढ़ीं चिन्मयानंद की मुश्किलें
इसके बाद अब चिन्मयानंद की मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं. यदि स्थगन आदेश खत्म हो गया होगा तो फिर चिन्मयानंद का गिरफ्तारी वारंट जारी हो सकता है, क्योंकि चिन्मयानंद अभी तक इस दुष्कर्म मामले में न तो अदालत के सम्मुख उपस्थित हुए और न ही जमानत ही कराई है. आपको बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद अपने ही कॉलेज में पढ़ने वाली एलएलएम की एक छात्रा द्वारा लगाए गए यौन शोषण के एक मामले में इस समय शाहजहांपुर की जेल में बंद हैं.

ये भी पढ़ें:

स्कूल प्रिंसिपल ने 10वीं के सिख छात्र को पगड़ी पहनने से रोका, मचा बवाल

संकट में रायबरेली से MLA अदिति सिंह, विधायकी ख़त्म करने के लिए नोटिस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पीलीभीत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 4:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...