Home /News /uttar-pradesh /

Ganga Expressway: 594 KM लंबाई, 12 जिले होंगे कनेक्ट और...; डिटेल में जानें गंगा एक्सप्रेस-वे कैसे होगा सबसे खास

Ganga Expressway: 594 KM लंबाई, 12 जिले होंगे कनेक्ट और...; डिटेल में जानें गंगा एक्सप्रेस-वे कैसे होगा सबसे खास

 Ganga Expressway की आज आधारशीला रखेंगे पीएम मोदी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Ganga Expressway की आज आधारशीला रखेंगे पीएम मोदी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Ganga Expressway News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज यूपी (UP News) को बड़ी सौगात देने जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के शाहजहांपुर (Shahjahanpur) में आज पीएम मोदी देश के सबसे लंबे एक्सप्रेसवे यानी गंगा एक्सप्रेस-वे (Ganga Expressway) की नींव रखेंगे। यह एक्सप्रेसवे यूपी के 12 जिलों से होकर गुजरेगा और इसकी लंबाई 594 किलोमीटर होगी। माना जा रहा है कि 2025 से पहले यह बनकर तैयार हो जाएगा।

अधिक पढ़ें ...

    शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) आज यूपी (Uttar Pradesh) को एक बड़ी सौगाते देने वाले हैं. पीएम मोदी आज शाहजहांपुर (PM Modi in Shahjahanpur) में देश के सबसे बड़े एक्सप्रेसवे यानी गंगा एक्सप्रेस-वे (Ganga Expressway) की नींव रखेंगे. दोपहर करीब एक बजे 594 किलोमीटर लंबाई वाले इस एक्सप्रेसवे की आधारशीला रखी जाएगी. पीएम मोदी की जनसभा के चलते पुलिस और प्रशासन के अलावा योगी सरकार के मंत्री भी तैयारियों में जुटे हुए हैं. बताया जा रहा है कि जब बनकर तैयार हो जाएगा तो यह गंगा एक्सप्रेस वे हिंदुस्तान का सबसे लंबा एक्सप्रेस वे होगा. यह एक्सप्रेस वे प्रयागराज को मेरठ से जोड़ेगा ही नहीं, बल्कि रोजगार सृजन के अलावा हाईवे एक्सप्रेस वे पर ट्रॉमा सेंटर और पेट्रोल पंप भी होंगे. तो चलिए जानते हैं इस एक्सप्रेसवे की और भी खासियतें.

    इन 12 जिलों से होकर गुजरेगा
    दरअसल, उत्तर प्रदेश के मेरठ से शुरू होने वाला गंगा एक्सप्रेस-वे हिंदुस्तान का सबसे बड़ा एक्सप्रेस-वे होगा और इसके निर्माण पर करीब 36 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे. मेरठ से शुरू होने के वाला यह एक्सप्रेसवे 12 जिलों से गुजरकर प्रयागराज तक पहुंचेगा. दरअसल यह गंगा एक्सप्रेस वे यूपी से पूर्वांचल को कनेक्ट करेगा. यह एक्सप्रेस-वे यूपी के 12 जिलों मेरठ, हापुड़, बुलन्दशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं , शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और रायबरेली से होकर गुजरेगा. एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश के 12 जिलों और 519 गांवों को जोड़ेगा. माना जा रहा है कि यह 2025 से पहले बनकर तैयार हो जाएगा.

    एक्सप्रेसवे पर क्या-क्या होगा
    गंगा एक्सप्रेस वे के लिए अब तक 94 प्रतिशत जमीन का अधिग्रहण हो चुका है. इस पर चलने वाले वाहनों की अधिकतम रफ्तार 120 किलोमीटर प्रतिघंटा तय की गई है. जबकि इस पर हवाई पट्टी के अलावा हेलिकॉप्टर उतारने के भी इंतजाम होंगे/ इसके साथ ही रोजगार सृजन के लिए इस एक्सप्रेस वे पर ढाबे पेट्रोल पंप और ट्रॉमा सेंटर भी बनाए जाएंगे.

    चुनाव पर क्या होगा असर
    गंगा एक्सप्रेस-वे का विधानसभा चुनाव से पहले शिलान्यास कर लोकसभा चुनाव से पहले उद्घाटन की तैयारी है. उन्नाव में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से लिंक होगा. निर्माण के लिए कंपनियों को टेंडर हो चुके हैं, तो वहीं जमीन अधिग्रहण और पर्यावरण समेत तमाम विभागों से एनओसी भी मिल चुकी है. पीएम नरेंद्र मोदी आज यानी 18 नवंबर को शिलान्यास कर पश्चिमी यूपी और पूर्वांचल के मतदाताओं को लुभायेंगे. शाहजहांपुर जिले में 6 विधानसभा सीटें हैं. इनमें से पांच पर भाजपा का कब्जा है, जबकि जलालाबाद सीट सपा के पास है. यह सीट आज तक भाजपा नहीं जीत पाई है. पीएम का खास फोकस जलालाबाद सीट और शाहजहांपुर के मतदाताओं को पार्टी की तरफ रिझाने का भी है. जिससे सपा से जलालाबाद सीट छीनी जा सके.

    एक्सप्रेसवे से क्या फायदा होगा
    गंगा एक्सप्रेसवे के बन जाने से कृषि क्षेत्र और इंडस्ट्री को बड़ा फायदा होने वाला है. बताया जा रहा है कि 594 किलोमीटर लंबा गंगा एक्सप्रेस वे कृषि अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने और क्षेत्र में औद्योगीकरण लाकर एक अंतर्निहित आय गुणक (इनकम मल्टिप्लायर इफेक्ट) के रूप में कार्य करेगा. बताया जा रहा है क्योंकि यह एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश के 12 जिलों से होकर गुजरेगा, इसलिए इन इलाकों के किसानों, उद्यमियों और आम लोगों को काफी फायदा होगा. साथ ही एनसीआर तक इन इलाकों की पहुंच भी आसान हो जाएगी। साथ ही किसानों से लेकर उद्यमियों को एक्सप्रेसवे की वजह से आर्थिक गतविधियों में भी फायदा होगा.

    Tags: Ganga Expressway, PM Modi, UP news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर