Wedding in Corona: शाहजहांपुर में हुई अनोखी शादी, 20 मिनट में दूल्हा-दुल्हन ने ऐसे लिए सात फेरे

20 मिनट में दूल्हे-दुल्हन ने ऐसे लिए सात फेरे (सांकेतिक तस्वीर)

20 मिनट में दूल्हे-दुल्हन ने ऐसे लिए सात फेरे (सांकेतिक तस्वीर)

Wedding in Corona: शाहजहांपुर के पुष्पेंद्र दुबे और हरदोई की प्रीति तिवारी ने कोरोना काल में सादगीपूर्वक शादी रचाई. बगैर दहेज के हुई शादी की चहुंओर हो रही चर्चा.

  • Share this:

शाहजहांपुर. कोरोना संक्रमण से जूझ रहे उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर (Shahjahanpur) में अनोखी शादी चर्चा का विषय बन गई. शाहजहांपुर जिले के कलान तहसील क्षेत्र के पटना देवकली शिव मंदिर में अक्षय तृतीया के शुभ मुहूर्त में केवल 20 मिनट में वर-वधू ने सात फेरे लिए. दूल्हे के सिर पर न सेहरा था, न वह घोड़ी पर बैठ कर आया. इस शादी में बैंड बाजा भी नहीं था. कोरोना के कारण लगी बंदिशों के बीच दूल्हा और दुल्हन जीवन की डोर में बंधे.

शाहजहांपुर जिले के कलान थाना के गांव के रहने वाले पुष्पेंद्र दुबे की यह अनोखी शादी चर्चा में है. उनकी बारात में ना ही बैंड बाजे थे और ना ही दूल्हे के सिर पर सेहरा सजा हुआ था. देवकली मंदिर में पुष्पेंद्र ने प्रीति तिवारी के साथ मात्र 20 मिनट में ही दहेज रहित शादी का संदेश दिया. पुष्पेंद्र ने शादी में दहेज के नाम पर सिर्फ रामायण की मांग रखी थी.

गंगा में तैरते शव को लेकर ट्वीट पर रिटायर्ड IAS सूर्य प्रताप सिंह पर उन्नाव में FIR

दूल्हे का कहना है कि कि मेरी इस शादी का उद्देश्य दहेज प्रथा के खिलाफ एक संदेश देना था. समाज को यह बताना था कि दुल्हन से बड़ा कोई दहेज नहीं है. उनकी जीवनसंगिनी प्रीति तिवारी जो हरदोई की रहने वाली हैं, ने बताया कि दहेज प्रथा ने बहुत से परिवारों को तबाह कर दिया है. इसे खत्म करने के लिए युवा वर्ग को आगे आना होगा. जब तक लोग सामाजिक बुराइयों को खत्म नहीं करेंगे, तब तक यह दान दहेज की कुप्रथा खत्म नहीं होगी. प्रीति ने कहा कि कोरोना लॉकडाउन के समय में हुई शादी की यादें भी खास रहने वाली हैं.
बता दें कि गोरखपुर शहर में ही अक्षय तृतीया पर 500 शादियां होनी थी. जिसके लिए शहर के सभी मैरेज हॉल और होटल पहले से ही बुक थे, पर जैसे ही कोरोना का संक्रमण बढ़ा वैसे ही लोग शादियों को टालने लगे. लॉकडाउन लगने के बाद करीब 90 फीसदी बुकिंग कैंसिल कर दी गयी. शहर में जो शादियां हो भी रही हैं, वो सभी सादगी से हुईं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज