पेंशन घोटाला: मृत लोगों के खाते में भेजे जा रहे थे रुपए
Shahjahanpur News in Hindi

डीएम अमृत त्रिपाठी ने बताया कि जैतीपुर ब्लॉक में मृत लोगों को पेंशन उनके खातों में पहुंचाई जा रही थी. इसके अलावा शादीशुदा महिलाओं को भी विधवा पेंशन दी जा रही थी.

  • Share this:
शाहजहांपुर के डीएम अमृत त्रिपाठी ने पेंशन घोटाले का एक बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने बताया कि विभाग के बाबू और बैंक कर्मचारी द्वारा पेंशन में घोटाला किया जा रहा था. मृत लोगों को पेंशन उनके खाते में पहुंचाई जा रही थी. साथ ही शादीशुदा महिलाओं को विधवा बनाकर पेंशन दी जा रही थी. जिला प्रशासन ने 87 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है.

डीएम अमृत त्रिपाठी ने बताया कि जैतीपुर ब्लॉक में मृत लोगों को पेंशन उनके खातों में पहुंचाई जा रही थी. इसके अलावा शादीशुदा महिलाओं को भी विधवा पेंशन दी जा रही थी. बैंक की मिली भगत से उन खातों से पैसा भी लगातार निकाला जा रहा था.

जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी को लगातार पेंशन के मामले में फर्जीवाड़े की शिकायत मिल रही थी. इन्हीं शिकायतों के आधार पर जब जिलाधिकारी ने जैतीपुर ब्लॉक में जांच कराई तो यहां दर्जनों गांवों की पेंशनों में बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया.



मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला प्रशासन ने 87 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. इस मामले में बैंक के अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की तैयारी की जा रही है. फिलहाल, इस खुलासे के बाद समाज कल्याण विभाग और घोटालेबाजों में अफरा-तफरी का माहौल है.
ये भी पढ़ें -

शादी पर हुआ विवाद तो बॉयफ्रेंड ने किया सुसाइड, फिर गर्लफ्रेंड ने भी दी जान, रहते थे लिव-इन में

Budget 2019: किसान+मजदूर+मिडिल क्लास = लोकसभा चुनाव

कुंभ में VHP की धर्म संसद का आखिरी दिन, राम मंदिर को लेकर हो सकता है बड़ा ऐलान
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज