हरिद्वार आश्रम में नहीं मिले चिन्मयानंद, खाली हाथ लौटी पुलिस

भाषा
Updated: September 3, 2019, 8:05 PM IST
हरिद्वार आश्रम में नहीं मिले चिन्मयानंद, खाली हाथ लौटी पुलिस
एसपी सिटी दिनेश त्रिपाठी ने मंगलवार को बताया कि स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ पीड़िता के पिता द्वारा दर्ज कराई गई रिपोर्ट के क्रम में एक टीम उनसे पूछताछ के लिए उनके हरिद्वार आश्रम भेजी गई थी.

स्वामी सुखदेवानंद विधि महाविद्यालय में पढ़ने वाली छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो में आरोप लगाया था कि एक संन्यासी ने कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी है और वह उसे व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी देता है.

  • Share this:
शाहजहांपुर. स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayanand) से पूछताछ करने गई पुलिस टीम (Up Police) उनके हरिद्वार आश्रम से वापस लौट आई है क्योंकि टीम को चिन्मयानंद वहां नहीं मिले. एसपी सिटी दिनेश त्रिपाठी ने मंगलवार को बताया कि स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ पीड़िता के पिता द्वारा दर्ज कराई गई रिपोर्ट के क्रम में एक टीम उनसे पूछताछ के लिए उनके हरिद्वार आश्रम भेजी गई थी. वहां वह नहीं मिले. टीम सोमवार को वापस लौट आई.

दिल्ली में लड़की के परिजन
उन्होंने बताया कि लड़की के परिजन दिल्ली में हैं, लेकिन उनके घर पर पुलिस तैनात है. इसके अलावा पुलिस लगातार पूरे मामले की निगरानी कर रही है और लड़की के पिता या परिवार को अधिक सुरक्षा की आवश्यकता प्रतीत होगी तो वह उपलब्ध कराई जाएगी.

क्या बोले पीड़िता के पिता

वहीं, पीड़िता के पिता ने कहा, 'मैं अपनी बेटी से मिलने पहुंचा तो बेटी काफी भयभीत थी और वह अपनी मां के सीने से लगकर रोने लगी. इसके बाद मैंने और उसकी मां ने उसे आश्वस्त किया कि प्रशासन और शीर्ष अदालत उसके साथ है. परिवार को कोई नुकसान नहीं होगा.

लड़की के पिता ने अपनी बेटी के हवाले से कहा कि वह घर वापस आना चाहती थी, लेकिन उसे लगा कि अगर वह वापस चली गई तो उसका पूरा परिवार मार दिया जाएगा, इसीलिए वह अपने दोस्त के साथ राजस्थान चली गई थी. पिता ने कहा कि बेटी ने उन्हें बताया है कि उसके पास स्वामी चिन्मयानंद के विरुद्ध सभी साक्ष्य मौजूद हैं.

'चिन्मयानंद के खिलाफ मौजूद हैं साक्ष्य'
Loading...

उन्होंने कहा कि चिन्मयानंद के विरुद्ध सारे साक्ष्य मौजूद हैं और उन्होंने जो किया है, उसका उन्हें दंड तो दिलवाकर ही रहेंगे. गौरतलब है कि स्वामी सुखदेवानंद विधि महाविद्यालय में पढ़ने वाली छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो में आरोप लगाया था कि एक संन्यासी ने कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी है और वह उसे व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी देता है, इसीलिए वह अपने घर से चली गई है. इस मामले के बाद लड़की के पिता ने स्वामी चिन्मयानंद पर लड़की के अपहरण तथा जान से मारने की धमकी देने का मामला यहां कोतवाली में दर्ज कराया था.

वहीं, स्वामी चिन्मयानंद ने एक व्हाट्सएप मैसेज का हवाला देते हुए पांच करोड़ रुपये की रंगदारी मांगने का मामला दर्ज कराया गया है. मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचने के बाद जांच एसआईटी को सौंप दी गई है.
ये भी पढ़ें:

चिन्मयानंद मामले में नया मोड़, दिल्ली में मिली आरोप लगाने वाली लड़की की लोकेशन

स्वामी चिन्मयानंद केस: सुप्रीम कोर्ट के सख्त रुख के बाद यूपी सरकार ने गठित की SIT

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शाहजहांपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 7:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...