शाहजहांपुर जिला जेल में कैदी ने लगाई फांसी, इलाज के दौरान अस्पताल में मौत
Shahjahanpur News in Hindi

शाहजहांपुर जिला जेल में कैदी ने लगाई फांसी, इलाज के दौरान अस्पताल में मौत
जेल अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

कैदी शाहजहांपुर (Shahjahanpur) जिला जेल में बंद था. उसने जेल में बैरक के अंदर फांसी लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया था.

  • Share this:
शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के शाहजहांपुर (Shahjahanpur) जिले में एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक कैदी ( Prisoner) की इलाज के दौरान मौत हो गई है. कैदी शाहजहांपुर जिला जेल में बंद था. उसने जेल में बैरक के अंदर फांसी लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया था. इसके बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया. जेल अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. मामले की जांच की जाएगी और कार्रवाई भी होगी.

बता दें कि बीते 10 फरवरी को बरेली स्थित सेंट्रल जेल और जिला जेल में तीन कैदियों की बीमारी के चलते अचानक मौत हो जाने से हड़कंप मच गया था. तीनों कैदी हत्या के अलग अलग मामले में आजीवन कारावास की सज़ा काट रहे थे. लेकिन, बीमारी के चलते आज इनकी मौत हो गई थी. पुलिस ने डॉक्टर्स का पैनल बनवा कर तीनों का पोस्टमार्टम कराया फिर शवों को परिजनों को सौंप दिया था. बरेली जेल प्रशासन के मुताबिक, तीनों कैदी लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे. उनका इलाज काफी दिनों से चल रहा था.


पांच लोगों की हत्या के मामले में सेंट्रल जेल में बंद थे
बता दें कि पीलीभीत निवासी रामचंद्र वर्ष 2001 में पांच लोगों की हत्या के मामले में सेंट्रल जेल में बंद थे. कोर्ट ने उन्हें आजीवन कारावास सजा सुनाई था. लेकिन पिछले कुछ माह से वह बीमार चल रहा था. उसका लखनऊ में भी इलाज कराया लेकिन देर शाम उनकी मौत हो गई. वहीं, सुभाष नगर निवासी (55) वर्षीय राम अवतार की जिला जेल में बीमारी के चलते मौत हो गई. रामावतार सुभाष नगर इलाके में हुए मर्डर के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था.



आजीवन कारावास की सजा काट रहे थे
तीसरी मौत हरिद्वारी लाल की हुई है. वह भी जिला जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे थे. बीमारी के समय मे हालत बिगड़ने पर उन्हें जिला अस्पताल लाया गया, लेकिन डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. एक ही दिन में सेंट्रल जेल और जिला जेल के 3 कैदियों की मौत के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया. जिसके बाद जिला प्रशासन ने डॉक्टर का पैनल बनाकर तीनों कैदियों का पोस्टमार्टम कराया. उसके बाद शव को परिजनों को सौंप दिया है. वहीं तीनों के परिजनों ने अंतिम संस्कार कर दिया है.

ये भी पढ़ें- 

बॉलीवुड की इन 8 एक्ट्रेसेस ने बेबाकी से मचाया तूफान, एक को तो जेल जाना पड़ा

सदन में धक्का-मुक्की के बाद कांग्रेस के खिलाफ लोकसभा में प्रस्ताव लाएगी BJP
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading