चिन्मयानंद प्रकरण: पीड़िता का आरोप- रेप की शिकायत दर्ज नहीं कर रही UP पुलिस

मीडिया से बातचीच में पीड़िता ने शाहजहांपुर के डीएम पर पिता को धमकी देने का आरोप लगाया हैं. यूपी पुलिस से खुद को खतरा है इसलिए मुझे दिल्ली में जीरो एफआईआर करवानी पड़ी.

News18Hindi
Updated: September 9, 2019, 7:30 PM IST
चिन्मयानंद प्रकरण: पीड़िता का आरोप- रेप की शिकायत दर्ज नहीं कर रही UP पुलिस
शाहजहांपुर पीड़िता का आरोप, एक साल तक स्वामी चिन्मयानंद ने किया यौन शौषण
News18Hindi
Updated: September 9, 2019, 7:30 PM IST
शाहजहांपुर. पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayanand) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. सोमवार को पीड़िता ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि चिन्मयानंद ने उसके साथ एक साल तक यौन शौषण किया. लेकिन यूपी पुलिस उसकी रेप की शिकायत दर्ज नहीं कर रही है. पीड़िता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उसने दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल को बलात्कार (Rape) करने की एक नई शिकायत दी है. वहां जीरो एफआईआर दर्ज की गई है. लेकिन रेप का मुकदमा शाहजहांपुर में नहीं लिखा गया है. पीड़ित लड़की ने बताया कि उसने एसआईटी को मामले की सारी जानकारी दे दी है.

मीडिया के सामने आई पीड़िता ने कहा कि उसके साथ 11 घंटे तक एसआईटी ने पूछताछ की, लेकिन आरोपी से अभी तक कोई पूछताछ नहीं हुई है. मीडिया से बातचीत में पीड़िता ने शाहजहांपुर के डीएम पर पिता को धमकी देने का आरोप लगाया है. पीड़ित लड़की ने बताया कि यूपी पुलिस से उसे खतरा है, इसलिए उसे दिल्ली में जीरो एफआईआर करवानी पड़ी. पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ सबूत के सवाल पर पीड़िता ने कहा कि उसके पास चिन्मयानन्द के खिलाफ पर्याप्त सबूत मौजूद हैं. जो सही समय आने पर दिए जाएंगे.

बता दें, पीड़ित लड़की ने रविवार को दिल्ली पुलिस को रेप की एक शिकायत दी. इस पर छात्रा के पिता ने बताया कि बेटी ने साउथ दिल्ली थाने में स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ दुष्कर्म करने की शिकायत दी थी. लेकिन इस मामले की जांच एसआईटी के पास है, इसलिए दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने शिकायत एसआईटी को ट्रांसफर करने की बात कही है. देर शाम तक न तो मुकदमा दर्ज कराया गया और न ही छात्रा का मेडिकल हुआ.



टीम ने किया हॉस्टल का निरीक्षण
गौरतलब है कि शनिवार को एसआईटी टीम ने चिन्‍मयानंद के आश्रम, शयनकक्ष से लेकर परिसर में बने एसएस लॉ कॉलेज और छात्रावास में पहुंचकर कॉलेज स्टाफ, कर्मचारियों और छात्र-छात्राओं से घटना बारे में पूछताछ की थी. इस बारे में स्वामी शुकदेवानंद स्नातकोत्तर कॉलेज के प्राचार्य अवनीश मिश्रा ने बताया था कि कॉलेज आई टीम ने परिसर स्थित हॉस्टल देखा, जिसमें पीड़िता का कमरा सील है. उसे नहीं खोला गया.

जांच दल के सामने पेश नहीं हुए चिन्मयानंद
Loading...

चिन्मयानंद के बाहर होने के कारण वह जांच दल के सम्मुख उपस्थित नहीं हुए. एसआईटी में पुलिस महानिरीक्षक नवीन अरोड़ा, आईपीएस भारती सिंह और पी एस आनंद के साथ टीम के अन्य सदस्यों ने एलएलबी कर रही छात्राओं से पीड़िता के दोस्तों के बारे में, उसके स्वभाव आदि के बारे में जानकारी प्राप्त की.

(रिपोर्ट: अजीत प्रताप सिंह)

ये भी पढ़ें:

दोबारा सक्रिय राजनीति में आए कल्याण सिंह, कहा- अब चुनाव नहीं लडूंगा

बागपत: गन पॉइंट पर दिनदहाड़े सिंडिकेट बैंक में 15 लाख की लूट

रामपुर में आजम खान के घर नोटिस चस्पा, पत्नी समेत दोनों बेटों का भी नाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शाहजहांपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 4:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...