चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को मेडिकल के लिए भेजा गया
Shahjahanpur News in Hindi

चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को मेडिकल के लिए भेजा गया
स्वामी चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली छात्रा का हो रहा है मेडिकल टेस्ट

आरोप लगाने वाली पीड़ित लॉ स्टूडेंट को एसआईटी (SIT) की महिला टीम के साथ मेडिकल के लिए भेजा गया है.

  • Share this:
शाहजहांपुर. पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद (Swami Chinmayanand) पर यौन शोषण (Sexual Harassment) का आरोप लगाने वाली लॉ छात्रा (Law Student) को बुधवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मेडिकल के लिए महिला जिला अस्पताल भेजा गया. पीड़िता को एसआईटी (SIT) की महिला टीम के साथ मेडिकल के लिए भेजा गया है. स्वामी चिन्मयानंद पर एसएस लॉ कालेज (SS Law College) की छात्रा ने यौन शोषण और दुराचार के गंभीर गंभीर आरोप लगाए हैं.

चिन्मयानंद का आपत्तिजनक वीडियो भी वायरल

उधर सोशल मीडिया पर स्वामी चिन्मयानंद का आपत्तिजनक वीडियो भी वायरल है. वायरल वीडियो में स्वामी चिन्मयानंद एक छात्रा से मसाज करवाते नजर आ रहे हैं. लगभग 6 पार्ट का यह वीडियो 31 जनवरी, 2014 का बताया जा रहा है. उधर स्वामी चिन्मयानंद के वकील ओम सिंह ने बताया कि वीडियो और स्क्रीन शॉट पूरी तरह से फर्जी है. इन्हें एडिट कर तैयार किया गया है. यह वीडियो 31 जनवरी, 2014 का बनाया गया है. उस समय छात्रा कॉलेज में थी ही नहीं. एसआईटी जांच में सब कुछ साफ हो जाएगा. बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद ने अश्लील वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर पांच करोड़ की रंगदारी मांगने का केस भी दर्ज करवाया हुआ है, जिसकी जांच सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद एसआईटी कर रही है.



SIT ने छात्रा के कमरे से किया साक्ष्य संकलन
इससे पहले मंगलवार को मामले की जांच कर रही एसआईटी लॉ कॉलेज के उस कमरे में पहुंची, जहां पीड़ित छात्रा रहती थी. एसआईटी पीड़ित छात्रा के कमरे से उसकी मौजूदगी में साक्ष्‍य संकलित (सबूत जुटाया) किया. पीड़िता ने दावा किया है कि कमरा नंबर 102 में स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ सभी साक्ष्य मौजूद हैं.

सोमवार को छात्रा ने बताया था कि हॉस्टल के कमरे में स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ सभी सबूत सुरक्षित हैं. इस कमरे को शुरू में ही छात्रा की मां ने सील करने की मांग की थी, उसके दो दिन बाद मुकदमा दर्ज होने पर पुलिस ने उस कमरे को सील किया था. मंगलवार को एसआईटी ने इस कमरे से सबूत इकट्ठा किए थे. माना जा रहा है कि कमरा खुलने से तमाम राज बाहर आ सकते हैं. छात्रा का आरोप है कि स्वामी चिन्मयानंद ने एक साल तक उससे रेप और यौन शोषण किया है. उसके पास इसे साबित करने के पर्याप्त सबूत हैं. छात्रा का कहना है कि कमरा नंबर 102 में सभी सबूत हैं.

एक साल तक यौन शोषण का आरोप

पीड़िता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उसने दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल के सामने रेप की नई शिकायत दर्ज कराई है. वहां जीरो एफआईआर दर्ज की गई है, लेकिन रेप का मुकदमा शाहजहांपुर में दर्ज नहीं किया गया. पीड़िता ने बताया कि उसने एसआईटी को मामले की सभी जानकारियां दे दी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading