योगी सरकार के मंत्री ने बताया कब आएगी कोरोना वैक्सीन! केंद्र से मांग- यूपी को सबसे पहले मिले

यूपी की चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना
यूपी की चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना

शाहजहांपुर (Shahjahanpur) में एक मोबाइल कंपनी का उद्घाटन करने आए चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना (Suresh Kumar Khanna) ने प्रदेश की जनता को भरोसा दिया है कि कोरोना की वैक्सीन दो-तीन महीने में ही उपलब्ध हो जाएगी.

  • Share this:
शाहजहांपुर. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना (Suresh Kumar Khanna) ने कोरोना वायरस (COVID-19) से संबंधित अच्छी खबर दी है. शाहजहांपुर (Shahjahanpur) पहुंचे सुरेश खन्ना ने दावा किया है कि प्रदेश में दो से तीन महीने में ही कोरोना की वैक्सीन (Corona Vaccine) आ जाएगी. आपको बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Chunav 2020) के लिए जारी अपने घोषणा पत्र में बीजेपी (BJP) ने कोरोना वैक्सीन मुफ्त बांटने का ऐलान किया है. इसके बाद से देश में कोरोना के टीका की चर्चा जोरों पर है. इसी बीच यूपी के मंत्री का यह बयान अहम माना जा रहा है.  यूपी के मंत्री सुरेश खन्ना ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से यह अनुरोध भी किया है कि उत्तर प्रदेश सबसे बड़ा राज्य है. साथ ही डिस्ट्रीबियूशन में भी यूपी पहले नंबर पर है, इसलिए प्राथमिकता के आधार पर हमें सबसे पहले कोरोना की वैक्सीन मिलनी चाहिए.

शाहजहांपुर में एक मोबाइल कंपनी का उद्घाटन करने आए चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने प्रदेश की जनता को भरोसा दिया है कि कोरोना की वैक्सीन दो-तीन महीने में ही उपलब्ध हो जाएगी. उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से उन्होंने अनुरोध किया है कि उत्तर प्रदेश सबसे बड़ा राज्य है. लिहाजा प्राथमिकता के आधार पर कोरोना वैक्सीन सबसे पहले यूपी को ही मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा कि सरकार ने बेहतर ढंग से कोरोना के फैलाव को रोका है. 17 सितंबर के बाद से कोरोना बीमारी की रिकवरी रेट 92 फ़ीसदी है. कोरोना संक्रमण के फैलाव को सफलतापूर्वक रोका गया है. चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा कि जितनी जल्दी कोरोना की वैक्सीन मिल जाएगी, उतनी जल्दी ही इस महामारी का अंत किया जा सकेगा.

पिछले 24 घंटे में 2,277 नए मामले
गौरतलब है कि पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 2,277 नए मामले सामने आए हैं. अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 27,681 हो गई है. कोरोना वायरस से ठीक होकर डिस्चार्ज होने वाले लोगों की संख्या 4,33,703 हो गई है. कोविड रिकवरी दर 92.62% हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज