Home /News /uttar-pradesh /

swami prasad maurya close aide roshan lal starts praising cm yogi adityanath after revenue department reaches his property

स्वामी प्रसाद मौर्य के करीबी रोशन लाल को सताया बुलडोजर का डर, तो करने लगे सीएम योगी की तारीफ

स्वामी प्रसाद मौर्य का इस्तीफा लेकर जाने वाले पूर्व विधायक और सपा प्रत्याशी रोशल लाल के खिलाफ मिली शिकायत के बाद राजस्व विभाग की टीम ने सोमवार को दल-बल के साथ बिल्डिंग और प्लॉट का नाप-जोख किया. वहीं राजस्व की टीम पहुंचने पर सपा प्रत्याशी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ में कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए और सीएम योगी से न्याय की गुहार लगाई है.

स्वामी प्रसाद मौर्य का इस्तीफा लेकर जाने वाले पूर्व विधायक और सपा प्रत्याशी रोशल लाल के खिलाफ मिली शिकायत के बाद राजस्व विभाग की टीम ने सोमवार को दल-बल के साथ बिल्डिंग और प्लॉट का नाप-जोख किया. वहीं राजस्व की टीम पहुंचने पर सपा प्रत्याशी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ में कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए और सीएम योगी से न्याय की गुहार लगाई है.

स्वामी प्रसाद मौर्य का इस्तीफा लेकर जाने वाले पूर्व विधायक और सपा प्रत्याशी रोशल लाल के खिलाफ मिली शिकायत के बाद राजस्व विभाग की टीम ने सोमवार को दल-बल के साथ बिल्डिंग और प्लॉट का नाप-जोख किया. वहीं राजस्व की टीम पहुंचने पर सपा प्रत्याशी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ में कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए और सीएम योगी से न्याय की गुहार लगाई है.

अधिक पढ़ें ...

शहाजहांपुर. स्वामी प्रसाद मौर्य का इस्तीफा लेकर जाने वाले पूर्व विधायक और सपा प्रत्याशी रोशन लाल वर्मा की बिल्डिंग और प्लॉट की नाप प्रशासन ने शुरू कर दी है. रोशल लाल के खिलाफ मिली शिकायत के बाद राजस्व की टीम ने सोमवार को दल-बल के साथ बिल्डिंग और प्लॉट का नाप-जोख किया. वहीं राजस्व की टीम पहुंचने पर सपा प्रत्याशी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ में कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए और सीएम योगी से न्याय की गुहार लगाई है.

बीजेपी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुए रोशन लाल वर्मा की बिल्डिंग और प्लॉट की राजस्व विभाग की टीम ने सोमवार को लगभग 4 घंटे तक बारीकी से नाप की. इस दौरान उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस की टीम भी मौजूद रही. राजस्व विभाग का कहना है कि नाप के बाद अगर जमीन सरकारी पाई गई तो आगे की कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें- CM योगी आदित्यनाथ का पुलिस को सख्त निर्देश- बिना मंजूरी कोई शोभायात्रा या जुलूस न निकले

राजेश विभाग के तहसीलदार ने बताया कि, ‘सरकारी जमीन के अतिक्रमण की शिकायत मिली थी, राजस्व विभाग की टीम दो जगहों पर जांच कर रही है. मौजूदा जमीन को देखते हुए नक्शे बनाए गए हैं. सरकारी नक्शे से मिलान करके यदि इसमें अतिक्रमण पाया जाएगा तो उसके बाद कार्यवाही की जाएगी.’

रोशल लाल के खिलाफ मिली शिकायत के बाद राजस्व की टीम ने सोमवार को दल-बल के साथ बिल्डिंग और प्लॉट का नाप-जोख किया.

ये भी पढ़ें- योगी सरकार की पहली कैबिनेट बैठक आज, होंगे ये अहम निर्णय

हालांकि सपा प्रत्याशी और पूर्व विधायक रोशनलाल वर्मा का कहना है कि बिल्डिंग उनकी पुत्रवधू के नाम से है, जो सभी नियम-कानूनों के अनुसार बनी है. उनका कहना है कि चुनावी रंजिश के चलते उनकी जमीन और बिल्डिंग की नाप करवाई जा रही है. वह कहते हैं, ‘यह जमीन मेरे बहू रुचि वर्मा की है, जो 2010 में खरीदी गई थी. मैं चाहता हूं कि इस जमीन की विधिवत नाप हो. मुझे सीएम योगी पर पूरा भरोसा है, जो हमारे विरोधी लोकल नेता हैं वह सब यह करा रहे हैं.

रोशनलाल कहते हैं कि नियम कानून के तहत मेरी बहू पर यदि कोई कार्रवाई होती है तो मुझे कोई एतराज नहीं. इसके साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुहार लगाई है कि उनकी बिल्डिंग और प्लॉट के मामले में निष्पक्ष कार्यवाही हो. उन्होंने कहा, ‘मुख्यमंत्री जी ऐसा कोई गलत काम नहीं होने देंगे.’

Tags: BJP, Swami prasad maurya, UP bulldozer action

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर