पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो इंसाफ पाने के लिए पानी टंकी पर चढ़ा युवक
Shahjahanpur News in Hindi

शोर शराबा होने पर गांव के लोग आ गए. ऐसे में सभी अपराधी तमंचे से हवाई फायरिंग करते हुए भाग गए.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में पुलिस के खराब रवैये से परेशान एक युवक ने पानी की टंकी पर चढ़कर खूब हंगामा किया. युवक ने धमकी देते हुए कहा कि अगर उसे जबरन उतारा गया तो बह कूदकर आत्महत्या कर लेगा. इस दौरान मौके पर एम्बुलेन्स और फायर ब्रिगेड की गाड़ियों के साथ भारी संख्या में पुलिस तैनात रही. हालांकि, घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद युवक को पानी की टंकी से नीचे उतार लिया गया.

मामला मदनापुर थाना क्षेत्र का है. क्षेत्र के रहने वाले एक युवक ने पीएम मोदी को एक पत्र भेजा था, जिसमें उन्होंने कहा था कि 10 अक्टूबर 2018 को गांव के ही श्यामबाबू और डिम्पल उसके घर में घुस गए. इसके बाद पीड़ित की पत्नी के साथ छेड़छाड़ करते हुए अश्लीलता करने लगे. जब पीड़ित ने विरोध किया तो आरोपियों ने उसकी पत्नी को तमंचे की बट और लाठी- डंडों से पीटना शुरू कर दिया.

शोर शराबा होने पर गांव के लोग आ गए. ऐसे में सभी अपराधी तमंचे से हवाई फायरिंग करते हुए भाग गए. भागते समय दबंग पीड़ित का मोबाइल व एटीएम साथ लेकर चले गए. वारदात के बाद पीड़ित जब थाने में शिकायत करने पहुंचा तो पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.



ये भी पढ़ें- बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर की हत्या में बजरंग दल, बीजेपी, वीएचपी कार्यकर्ता के खिलाफ FIR
पीड़ित ने बताया कि जब वह थाने में प्रार्थना पत्र लेकर पहुंचा तो पुलिस द्वारा उसको मारा पीटा गया और 151 में उसका ही चालान कर दिया गया. यहीं नहीं पुलिस ने धमकाया कि भविष्य में फिर से शिकायत करने आया तो गम्भीर मुकदमें में तुझे व तेरी पत्नी को जेल भेज दिया जाएगा. इसी बात से नाराज युवक आत्महत्या करने के इरादे से पानी की टंकी पर चढ़ गया. टंकी पर चढ़े युवक ने हालांकि दो बार छलांग लगाने की कोशिश की, लेकिन पुलिस और प्रशासन के आश्वासन के चलते वह नीचे नहीं कूदा.

ये भी पढ़ें- ग्रांउड रिपोर्ट: क्या बुलंदशहर हिंसा के पीछे बड़ी साजिश? उठ रहे हैं ये सवाल

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज