लाइव टीवी

शामली के कैराना से समाजवादी पार्टी MLA नाहिद हसन गिरफ्तार, 14 दिन की जेल

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 25, 2020, 12:54 PM IST
शामली के कैराना से समाजवादी पार्टी MLA नाहिद हसन गिरफ्तार, 14 दिन की जेल
शामली में कोर्ट से सीधे मुजफ्फरनगर जेल ले जाए जाते सपा विधायक नाहिद हसन

सपा विधायक नाहिद हसन (SP MLA Nahid Hasan) फास्ट ट्रैक कोर्ट में अपनी जमानत कराने के लिए पहुंचे तो कोर्ट ने उनकी अंतरिम जमानत को भी खारिज करते हुए नाहिद को जेल भेजने के आदेश दिए. कोर्ट के आदेश के बाद पहुंचे पुलिस के आला अधिकारियों ने नाहिद को हिरासत में लिया और उसको मुजफ्फरनगर की जेल भेज दिया.

  • Share this:
शामली. कैराना (Kairana) से समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के विधायक नाहिद हसन (MLA Nahid Hasan) गिरफ्तार हो गए हैं, उन्हें कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत (Judicial Custody) में जेल भेज दिया है. जमीन बैनामे में धोखाधड़ी के मामले में नाहिद की कोर्ट से गिरफ्तारी हुई है. बता दें मामले में सपा विधायक सहित 9 लोगों के खिलाफ़ मुकदमा चल रहा है. शुक्रवार को नाहिद हसन फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश हुए थे और जमान अर्जी दी थी. जज ने उनकी जमानत याचिका खारिज करते हुए जेल भेजने के आदेश दिए. इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच नाहिद हसन को कोर्ट से 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया.

बता दें कि यह मामला जनपद शामली की कैराना कोतवाली क्षेत्र का है. यहां कैराना क्षेत्र से सपा विधायक नाहिद हसन के ऊपर कैराना कस्बे के ही रहने वाले मोहम्मद अली नाम के एक युवक ने फोर्जरी यानी 420 का मुकदमा दर्ज कराया हुआ था. यह मुकदमा नाहिद के विरुद्ध करीब 2 वर्ष पूर्व कैराना कोतवाली में दर्ज हुआ था. वादी मोहम्मद अली जिन्ना का आरोप था कि उसके साथ जमीन के लेनदेन के मामले में करीब 80 लाख रुपये की धोखाधड़ी हुई है. सपा विधायक नाहिद हसन इस मामले में 1 सप्ताह से अंतरिम जमानत पर चल रहे थे.

कोर्ट ने जमानत अर्जी कर दी खारिज
आज सपा विधायक नाहिद हसन फास्ट ट्रैक कोर्ट में अपनी जमानत कराने के लिए पहुंचे तो कोर्ट ने उनकी अंतरिम जमानत को भी खारिज करते हुए नाहिद को जेल भेजने के आदेश दिए. कोर्ट के आदेश के बाद पहुंचे पुलिस के आला अधिकारियों ने नाहिद को हिरासत में लिया और उसको मुजफ्फरनगर की जेल भेज दिया. नाहिद हसन के वकील इंतजार अहमद ने बताया कि सपा विधायक के विरुद्ध उक्त युवक ने फर्जी मुकदमा दर्ज कराया है, जिसमें सपा विधायक की आज अंतरिम जमानत खारिज कर दी गई और उनको जेल भेज दिया गया. अब वह उच्च कोर्ट में विधायक की जमानत की अर्जी डालेंगे.

(रिपोर्ट: शहनवाज)

ये भी पढ़ें:

LU में CAA पाठ्यक्रम पर सियासत तेज, अखिलेश यादव का तंज- यही हाल रहा तो...RSS बैठक में CAA, NPR विरोध पर चर्चा, दत्तात्रेय होसबोले ने बताए ये उपाय

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुजफ्फरनगर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 25, 2020, 12:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर