Siddharthnagar News: पंचायत चुनाव जीत कर भी 376 प्रधान नहीं चला सकेंगे 'गांव की सरकार'

सिद्धार्थनगर में आज नवनिर्वाचित प्रधान लेंगे शपथ

सिद्धार्थनगर में आज नवनिर्वाचित प्रधान लेंगे शपथ

Gram Pradhan Oath Taking Ceremony: 376 ग्राम पंचायतों में दो तिहाई बहुमत की औपचारिक संख्या सीट के सापेक्ष नहीं आने की वजह से यहां के प्रधान शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हो सकते.

  • Share this:

सिद्धार्थनगर. जिले में ग्राम पंचायतों (Gram Panchayats) की संख्या 1136 है, जिसमें से 760 ग्राम प्रधान 25 और 26 मई को शपथ लेंगे. इसके लिए जिला प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है. जिन ग्राम पंचायतों के प्रधान शपथ लेंगे  उनकी पहली बैठक 27 मई को होगी. इस दौरान वे सदस्यों के साथ बैठक करेंगे और गांवों के विकास की रूपरेखा तैयार कर समितियों का गठन करेंगे. जिले की सभी ग्राम पंचायतों में चुनाव हुआ था, इनमें से दो उम्मीदवारों की चुनाव के दौरान ही मृत्यु हो गई थी, इन सीटों पर 9 मई को दोबारा मतदान कराया गया था. लेकिन 376 ग्राम पंचायतों में दो तिहाई बहुमत की औपचारिक संख्या सीट के सापेक्ष नहीं आने की वजह से यहां के प्रधान शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हो सकते. जब तक औपचारिकताएं पूरी नहीं हो जाती तब तक प्रशासक ही इन गांव की कार्यवाही को देखेंगे. बाकी 760 ग्राम प्रधान 2 दिन के अंदर शपथ ले लेंगे.

लिहाजा जीत कर भी जिले के 376 ग्राम प्रधानों से प्रधानी फिलहाल तब तक दूर रहेगी जब तक उनके गांव के दो तिहाई ग्राम पंचायत सदस्य चुनकर नहीं आ जाते. ऐसे में 25 एवं 26 मई को हो रहे प्रधान पद की शपथ के लिए एवं गांव की सरकार चलाने के लिए दो तिहाई ग्राम पंचायत सदस्यों का होना जरूरी है, लेकिन पद रिक्त रह गए हैं और कई जगहों पर ग्राम पंचायत सदस्यों ने पर्चा भी नहीं भरे थे. ऐसे में अब इन ग्राम पंचायतों में छह महीने के भीतर फिर से उपचुनाव कराकर पंचायत सदस्य चुने जाएंगे.

130363 में से 8000 सदस्य चुने गए

जिले में ग्राम पंचायत सदस्यों की संख्या 13,363 है. इसमें से 8000 ही चुनाव जीतकर या निर्विरोध चुन कर आए हैं. प्रधानों की शपथ में इन पंचायत सदस्यों की संख्या का पूरा होना जरूरी है. अन्यथा ग्राम प्रधान जीतकर भी गांव की सरकार नहीं चला सकेंगे.
DPRO ने कही ये बात

जिला पंचायत राज अधिकारी आदर्श ने कहा है कि जिले में 1136 प्रधान पद हैं जिसमें से 760 ग्राम प्रधान शपथ ले सकेंगे. ग्राम प्रधानों को ग्राम पंचायत सदस्यों के दो तिहाई संख्या पूरी होने के बाद ही शपथ दिलाई जाएगी. रिक्त पदों की सूची तैयार कर चुनाव आयोग को भेज दी जा रही है. जब तक दो तिहाई बहुमत की संख्या पूरी नहीं हो जाती तब तक ये ग्राम प्रधान शपथ नहीं ले सकते.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज