सिद्धार्थनगर: 404 प्राइमरी स्कूलों के एकीकरण से 482 रसोइए हुए बेरोजगार

सिद्धार्थनगर बीएसए ऑफिस
सिद्धार्थनगर बीएसए ऑफिस

Siddharthnagar news: परिषदीय विभाग ने एकीकरण पर काम करते हुए जिले भर के 14 ब्लॉक में एकीकरण कर 404 विद्यालय को एक ही कैंपस में कर दिया गया. इन स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र की संख्या जोड़ने पर 482 रसोईए छात्र मानक से अतिरिक्त मिले.

  • Share this:
सिद्धार्थनगर. बेसिक शिक्षा विभाग (Basic Education Department) ने जिले भर के 404 विद्यालयों के एकीकरण से 482 रसोइयों (Cook) की नौकरी जा चुकी है. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) शासन ने एक ही कैंपस में चल रहे प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों की छात्र संख्या को जोड़कर रसोइए रखने का आदेश जारी किया था. इसी आधार पर विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्रों की संख्या पर बनाए गए मानक से अधिक रसोइयों को बाहर कर दिया गया है. अब इनके सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है.

शासन ने जून महीने के मिड डे मील योजना के अंतर्गत एक ही कैंपस में चलने वाले प्राथमिक विद्यालय एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों को संविलियन एकीकरण करते हुए छात्र संख्या के आधार पर रसोईया रखने का आदेश दिया गया था. परिषदीय विभाग ने एकीकरण पर काम करते हुए जिले भर के 14 ब्लॉक में एकीकरण कर 404 विद्यालय को एक ही कैंपस में कर दिया गया. इन स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र की संख्या जोड़ने पर 482 रसोईए छात्र मानक से अतिरिक्त मिले. जिनके आधार पर इन सभी रसोइयों को निकालने का आदेश दिया गया.

इन सभी विद्यालयों की मर्ज होने से 482 रसोईया बेरोजगार तो हो ही गए, इसके साथ ही उनके परिवार पर भी इसका असर देखने को मिला. अब उनके परिवार पर रोजी रोटी का भी संकट है. और कई रसोइए तो विभाग के चक्कर लगा रहे हैं कि उन्हें वापस नौकरी पर रख लिया जाए.



हर महीने 7.23 लाख रुपए की बचत
परिषदीय विभाग रसोइयों को प्रतिमाह ₹1500 का वेतन देता है. जिले भर में 482 रसोइयों के हट जाने से प्रति महीने 7 लाख रुपए की बचत होगी.

इस आधार पर हटाई गई रसोईया

--सबसे अंतिम नियुक्ति
--जिसकी उम्र सबसे कम रही
--बच्चा स्कूल में ना पढ़ता हो

रसोईया रखने का मानक

छात्र संख्या      रसोईया
1-25.              01
26-100.         02
101-200.       03
201-300.       04
301-1500.     05

इन ब्लॉकों से हटाए गए रसोइए

ब्लॉक                  हटाए गए रसोइए
बर्डपुर                   19
नौगढ़                    20
उसका बाजार        22
लोटन                   24
बांसी                    25
जोगिया                26
बढ़नी                   28
इटवा                   32
मिठवल               47
भनवापुर             50
खेसराहा              51
डुमरियागंज          64
शोहरतगढ़           34
खुनियांव             40

मिड डे मील के जिला समन्वयक डीपी श्रीवास्तव ने कहा कि शासन ने एक ही कैंपस में चलने वाले प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों मैं पढ़ने वाले छात्रों की संख्या के आधार पर रसोईया रखने का आदेश दिया है. इसमें जिलेभर में 482 रसोइए मानक से अधिक मिले हैं जिनकी वजह से उन्हें बाहर कर दिया गया है.

(रिपोर्ट: शरद त्रिपाठी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज