लाइव टीवी

आजम खान की बहू ने कहा- 'जेल में मच्छर बहुत थे, रात भर वालिद सो न सके'
Sitapur News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 28, 2020, 6:24 PM IST
आजम खान की बहू ने कहा- 'जेल में मच्छर बहुत थे, रात भर वालिद सो न सके'
जेल में आज़म खान से मुलाक़ात करने आईं उनकी बहू सिदरा खान

आज़म (Azam khan) की बहू सिदरा ने सीतापुर जेल प्रशासन पर भी गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा वालिद और वालिदा की तबीयत खराब होने के बावजूद भी जेल प्रशासन दवा नहीं दे रहा है.

  • Share this:
सीतापुर. रामपुर से सीतापुर जेल (Sitapur Jail) शिफ्ट किए गए आजम खान (Azam Khan), उनकी पत्नी तंजीम फातिमा (Tazeen Fatma) व बेटे अब्दुल्ला आज़म से मिलने उनकी बहू सिदरा खान और बेटा अदिब आजम शुक्रवार को सीतापुर जेल पहुंचे. उन्होंने जेल में बंद परिजनों से मुलाकात की. मुलाकात करने के बाद बहू सिदरा खान और बेटे आदिब आज़म के चेहरे पर उनका दर्द साफ नजर आया. जेल से बाहर निकलने पर मीडिया से बातचीत करते हुए आजम की बहू सिदरा ने कहा कि परिवार वालों से मिलकर उनकी दशा देख कर बहुत दुख हुआ.

आजम खान के बारे में बताते हुए उनकी बहू सिदरा ने कहा, "जेल में मच्छर बहुत थे जिससे वालिद रात भर सो नहीं सके."


'अल्लाह पर भरोसा है'
सिदरा ने कहा कि उनकी सास को बैक बोन में दर्द है. गत वर्ष ऑपरेशन कराया गया था. इतना ही नहीं आज़म की बहू सिदरा ने सीतापुर जेल प्रशासन पर भी गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा, "वालिद और वालिदा की तबीयत खराब होने के बावजूद भी जेल प्रशासन दवा नहीं दे रहा है." उन्होंने कहा कि उन्हें अल्लाह पर भरोसा है, कोर्ट का जो फैसला आएगा, वह हमारे हक में आएगा क्योंकि जो FIR हुई है वो झूठी है.



'सीतापुर जेल में शिफ्ट किए जाने की नहीं थी जानकारी'


उन्होंने कहा कि सीतापुर जेल में शिफ्ट किए जाने की भी उन लोगों को कोई जानकारी नहीं दी गई. जैसे ही जानकारी हुई वैसे ही वो लोग मिलने के लिए आए हैं. उन्होंने शासन और प्रशासन से मांग की कि दोनों को दवा व इलाज मुहैया कराया जाए. दोनों ही उम्रदराज हैं. इस चीज को ध्यान में रखते हुए उनका ख्याल रखा जाए.

वहीं सीतापुर जेल में शिफ्ट किए जाने के बाद आजम से मिलने वालों का तांता लगा रहा. समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम, सम्भल की विधायक पिंकी सहित स्थानीय नेताओं ने आज़म खान व उनके परिवार से मुलाकात की.

ये भी पढ़ें-

आजम के जेल जाने से खुश है ये अफसर, कहा- मुझे जबरन भेजा था जेल...


 
First published: February 28, 2020, 5:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading