लाइव टीवी

सीतापुर: नशे में धुत होकर सिपाही ने की अंधाधुंध फायरिंग, टला बड़ा हादसा

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 8, 2019, 2:10 PM IST
सीतापुर: नशे में धुत होकर सिपाही ने की अंधाधुंध फायरिंग, टला बड़ा हादसा
नशे में धुत होकर सिपाही ने की अंधाधुंध फायरिंग (file photo)

इस मामले पर उप सेनानायक हरि गोविंद ने बताया आयुध भंडार में तैनात 28 बटालियन एटा की कंपनी सुरक्षा में लगी हुई थी. उसका सिपाही सोमेंद्र सिंह मोर्चे ड्यूटी पर था.

  • Share this:
सीतापुर. यूपी के सीतापुर (Sitapur) में शनिवार देर रात केंद्रीय आयुध भंडार में तैनात सिपाही (Constable) ने ड्यूटी के दौरान नशे की हालत में अपनी सरकारी राइफल से करीब 20 राउंड फायरिंग की. फायरिंग से केंद्रीय आयुध भंडार में तैनात सिपाहियों सहित पीएसी के अधिकारियों में हड़कंप मच गया.  किसी अनहोनी को लेकर आनन-फानन में सिपाहियों ने मोर्चा संभाला, लेकिन कुछ देर बाद अपने साथी के द्वारा फायरिंग किए जाने की जानकारी होने के बाद अधिकारियों व ड्यूटी में तैनात सिपाहियों ने राहत की सांस ली. ड्यूटी में तैनात सिपाहियों ने काफी मशक्कत के बाद सूझबूझ का परिचय देते हुए सिपाही सुरेंद्र सिंह को काबू में किया और उसकी राइफल लेकर जमा करा ली.

 मेडिकल जांच में हुए शराब की पुष्टि

वहीं पीएसी के अधिकारियों ने देर रात गुपचुप तरीके से नशे में धुत सिपाही का मेडिकल परीक्षण करवाया जिसमें उसके शरीर में अल्कोहल होने की पुष्टि हुई. ऐसी के अधिकारियों ने आरोपी सिपाही सुरेंद्र सिंह को देर रात एटा पीएससी रवाना कर दिया और पूरे मामले की रिपोर्ट एटा सेनानायक को भेज दी. दरअसल सीतापुर में स्थित केंद्रीय आयुध भंडार में पूरे उत्तर प्रदेश का गोला बारूद रखा हुआ है. यहीं से जिले व पीएसी के जवानों को कारतूस सहित गोला बारूद दी जाती है. इसकी सुरक्षा को लेकर उत्तर प्रदेश की सभी बटालियनो की समयबद्ध तरीके से सुरक्षा को लेकर में ड्यूटी लगाई जाती है.

वर्तमान समय में केंद्रीय आयुध भंडारण की सुरक्षा को लेकर एटा पीएसी की एक कंपनी तैनात है. कंपनी में तैनात सिपाही सुरेंद्र सिंह तीन नंबर पोस्ट पर तैनात था, जहां उसने नशे की हालत में अपनी सरकारी राइफल से ताबड़तोड़ 20 राउंड फायरिंग की. अचानक हुई केंद्रीय आयुध भंडारण में फायरिंग की घटना से अधिकारियों व ड्यूटी में तैनात सिपाहियों में अफरा-तफरी मच गई.

जांच के आदेश

इस मामले पर उप सेनानायक हरि गोविंद ने बताया आयुध भंडार में तैनात 28 बटालियन एटा की कंपनी सुरक्षा में लगी हुई थी. उसका सिपाही सोमेंद्र सिंह मोर्चे ड्यूटी पर था. मोर्चे से उतरकर अपने बिस्तर पर आ गया और शराब के नशे में अपनी सरकारी राइफल से 20 राउंड फायरिंग की. मौके पर मौजूद सिपाहियों ने काफी मशक्कत के बाद उस पर काबू पाया और सिपाही को पकड़कर उसकी राइफल जमा करा ली. ड्यूटी के दौरान शराब पीना अनुशासनहीनता है, इस पूरे प्रकरण से एटा के कमांडेंट को अवगत करा दिया गया है.  सिपाही के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी.

पहले जा चुका है सिपाही जेलबताया जाता है कि इससे पहले फायरिंग करने वाला सिपाही सुरेंद्र सिंह 27 बटालियन पीएसी सीतापुर में रह चुका है. पीएससी में तैनाती के दौरान वह समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की आवाज निकाल कर अधिकारियों को फोन करता था इसी मामले को लेकर सिपाही सुरेंद्र जेल भेजा गया था.

ये भी पढ़ें:

उन्नाव गैंगरेप: पीड़िता की बहन को मिला नौकरी का आश्वासन, परिवार ने किया अंतिम संस्कार

अलीगढ़: सोशल मीडिया पर आडवाणी की आपत्तिजनक तस्वीर, AMU छात्र सहित दो पर केस दर्ज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीतापुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 8, 2019, 2:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर