सीतापुर: महिला कांस्टेबलों से ड्यूटी की जगह अपने बच्चों को ट्यूशन पढ़वा रहे हैं SHO, जांच के आदेश

सीतापुर सकरन थाने के थानाध्यक्ष पुष्प राज कुशवाहा पर गंभीर आरोप लगे हैं. (File Photo)

सीतापुर सकरन थाने के थानाध्यक्ष पुष्प राज कुशवाहा पर गंभीर आरोप लगे हैं. (File Photo)

Sitapur News: सीतापुर के सकरन थानाध्यक्ष पुष्प राज कुशवाहा द्वारा महिला सिपाहियों से अपने बच्चों को ट्यूशन पढ़ाए जाने के मामले में एएसपी डॉ राजीव दीक्षित ने कहा कि प्रकरण संज्ञान में आया है. जांच कराई जाएगी. जांच में मामला सही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

  • Share this:

संदीप मिश्र

सीतापुर: उत्तर प्रदेश के सीतापुर (Sitapur) में एक थानाध्यक्ष (SHO) का अजब कारनामा सामने आया है. यह थानाध्यक्ष थाने पर तैनात महिला आरक्षियों से ड्यूटी ना करवाकर अपने बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने का काम ले रहे हैं. आरोप है कि इसका विरोध करने वाली महिला आरक्षियों का थानाध्यक्ष अपने पद का दुरुपयोग करते हुए महिला आरक्षियों की अनुशासनहीनता की रिपोर्ट देकर उच्च अधिकारियों से उनका तबादला करवा दे रहे हैं. थानाध्यक्ष की इस कार्यशैली से थाने पर तैनात महिला आरक्षियों में भय का माहौल व्याप्त है. यह पूरा मामला सकरन थाना क्षेत्र का है. मामले को लेकर एएसपी डॉ राजीव दीक्षित का कहना है कि जांच कराई जाएगी. दोषी पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

जनपद सीतापुर सकरन थाने पर तैनात थानाध्यक्ष पुष्प राज कुशवाहा द्वारा थाने पर तैनात महिला आरक्षियों के शोषण का मामला लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है. बताते हैं कि थानाध्यक्ष पुष्प राज कुशवाहा का परिवार थाने पर ही रहता है. जिसमें उनके दो मासूम बच्चे भी रहते हैं. लॉकडाउन के दौरान बच्चों की शिक्षा का कार्य कोई और नहीं बल्कि थाने पर तैनात महिला आरक्षियों के द्वारा किया जा रहा है. इसके लिए थानाध्यक्ष के द्वारा बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने के लिए महिला आरक्षी की ड्यूटी लगाई जा रही है. इस ड्यूटी के बाद ट्यूशन पढ़ाने वाली महिला आरक्षी की किसी अन्य जगह पर ड्यूटी नहीं लगाई जाती है.

विरोध करने वाली महिला आरक्षी का करवा देते हैं तबादला
थानाध्यक्ष पुष्पराज कुशवाहा द्वारा ट्यूशन के नाम पर महिला आरक्षियों का किए जा रहे शोषण को लेकर विभागीय लोगों का कहना है की अगर जिस महिला आरक्षी के द्वारा ट्यूशन पढ़ाये जाने का विरोध किया जाता है तो उसे थानाध्यक्ष के द्वारा उच्च अधिकारियों को उसके द्वारा अनुशासनहीनता की गोपनीय रिपोर्ट भेजकर तबादला करवा दिया जाता है.

बताते हैं कि थानाध्यक्ष पुष्प राज कुशवाहा के द्वारा थाने पर तैनात तीन महिला सिपाहियों का तबादला करवाया जा चुका है. जिन पर अनुशासनहीनता का आरोप लगाते हुए थानाध्यक्ष ने उनका थाने से तबादला करवा दिया है. वर्तमान समय में एक अन्य महिला सिपाही थानाध्यक्ष के बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने का कार्य कर रही है.

जांच के बाद होगी कार्रवाई- एएसपी



थानाध्यक्ष पुष्प राज कुशवाहा के द्वारा अपने बच्चों को ट्यूशन पढ़ाई जाने को लेकर महिला सिपाहियों के शोषण को लेकर एएसपी डॉ राजीव दीक्षित से जब बात की गई तो उन्होंने बताया की प्रकरण संज्ञान में आया है, जिसकी जांच कराई जाएगी. जांच में मामला सही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज