लाइव टीवी

कमलेश तिवारी हत्‍याकांड: बेटे ने की NIA जांच की मांग, कहा- प्रशासन पर कैसे करें भरोसा

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 19, 2019, 10:42 PM IST
कमलेश तिवारी हत्‍याकांड: बेटे ने की NIA जांच की मांग, कहा- प्रशासन पर कैसे करें भरोसा
कमलेश तिवारी के बेटे ने सरकार से की ये मांग

कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) के बेटे सत्यम का कहना है कि उन्हें यूपी प्रशासन (Uttar Pradesh Government) पर भरोसा नहीं है और मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी से कराई जानी चाहिए.

  • Share this:
सीतापुर. हिंदू समाज पार्टी (Hindu Samaj Party) के अध्यक्ष कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) की हत्‍या पर उनके बेटे सत्यम तिवारी ने कहा, 'हम चाहते हैं कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी मामले की जांच करें. हमें किसी पर भरोसा नहीं है. मेरे पिता को मार दिया गया, जबकि उनके पास सुरक्षा गार्ड भी थे, हम प्रशासन पर भरोसा कैसे कर सकते हैं?'

बता दें कि कमलेश तिवारी के मर्डर के मामले में अब तक 5 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है. यूपी पुलिस ने महज 24 घंटे में मामले को सुलझाने का दावा किया है. हालांकि कमलेश तिवारी के बेटे सत्यम का कहना है कि उन्हें यूपी प्रशासन पर भरोसा नहीं है और मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी से कराई जानी चाहिए. हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष रहे कमलेश तिवारी ने कुछ महीनों पहले ही हिंदू समाज पार्टी के नाम से राजनीतिक दल का गठन किया था.



पुलिस ने किया 5 लोगों को अरेस्ट
Loading...

डीजीपी ने बताया कि इनमें से एक मोहसिन शेख सलीम है, जो सूरत का रहने वाला है और साड़ी की दुकान पर काम करता है. वहीं दूसरा फैजान है, जो सूरत में ही जिलानी अपार्टमेंट का रहने वाला है. ये 21 साल का है और जूते की दुकान पर काम करता है. डीजीपी के अनुसार, मौका ए वारदात से बरामद मिठाई के डिब्बे की खरीद में फैजान लिप्त पाया गया है.

वहीं तीसरा शख्स रशीद अहमद पठान है. ये 23 साल का है, इसे कंप्यूटर चलाने की जानकारी भी है. उन्होंने कहा कि इसके अलावा दो अन्य संदिग्धों को भी हिरासत में लिया है. लेकिन उन्हें पूछताछ के बाद छोड़ दिया है. उन पर भी नजर रखी जा रही है.

ये भी पढ़ें:

कमलेश तिवारी हत्याकांड पर बोले हिन्दू महासभा के अध्यक्ष, दिया ये बड़ा बयान

इंतजार कर रहे हैं कि सरकार कमलेश के मामले में क्या करती है: हिन्दू महासभा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीतापुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 19, 2019, 7:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...