भैंस को भीगने से बचाने गई बच्ची, आकाशीय बिजली की चपेट में आने से हुई दर्दनाक मौत
Sitapur News in Hindi

भैंस को भीगने से बचाने गई बच्ची, आकाशीय बिजली की चपेट में आने से हुई दर्दनाक मौत
आकाशीय बिजली की चपेट में आने से बच्ची की मौत (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रिपोर्ट के मुताबिक नारायणपुर निवासी मनोहर लाल घर के बाहर पड़े छप्पर के नीचे बैठा हुआ था. पेड़ के नीचे बंधी भैंस को भीगता हुआ देख मनोहर लाल ने अपनी पोती क्रांति से भैंस को दूसरी जगह बांधने के लिए कहा और फिर हो गया हादसा...

  • Share this:
सीतापुर. उत्तर प्रदेश के जनपद सीतापुर (Sitapur) में आकाशीय बिजली (Lightning) की चपेट में आने से एक बच्ची की दर्दनाक मौत (Death) हो गई वहीं उसके दादा गंभीर रूप से झुलस गए जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जनपद में अचानक बदले मौसम के मिजाज ने जन-जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया. बताया जा रहा है कि भैंस को बारिश से बचाने के लिए बच्ची उसे खूंटे से खोलकर दूसरी जगह ले जाने का प्रयास कर रही थी उसी दौरान बिजली गिरने से बच्ची व भैंस दोनों की दर्दनाक मृत्यु हो गई.

पुलिस-प्रशासन मौके पर पहुंचा
इस हादसे की सूचना मिलते ही सीओ बिसवां सहित थाना व तहसील प्रशासन मौके पर पहुंचा. घायल वृद्ध को इलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया. यह पूरा मामला रेउसा थाना क्षेत्र के नारायणपुर गांव का है. बता दें कि शुक्रवार सुबह मौसम ने एकाएक करवट ली और तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हुई. रिपोर्ट के मुताबिक नारायणपुर निवासी मनोहर लाल घर के बाहर पड़े छप्पर के नीचे बैठा हुआ था. पेड़ के नीचे बंधी भैंस को भीगता हुआ देख मनोहर लाल ने अपनी पोती क्रांति से भैंस को दूसरी जगह बांधने के लिए कहा. बताते हैं कि क्रांति जब भैंस को खोल रही थी तभी एकाएक तेज गड़गड़ाहट के साथ आकाशीय बिजली उस पर गिर गई जिससे क्रांति व भैंस की मौके पर मौत हो गई जब की बिजली की चपेट में आने से मनोहरलाल झुलस कर गंभीर रूप से घायल हो गए.

गंभीर रूप से झुलसे मनोहर को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेउसा में भर्ती कराया गया जहां उनका इलाज चल रहा है. सीओ ने कहा तेज हवाओं के साथ हुई बारिश व आकाशीय बिजली गिरने से एक बच्ची व मवेशी की मौत हो गई वहीं एक वृद्ध गंभीर रूप से झुलस गया है जिसका इलाज चल रहा है. आकाशीय बिजली गिरने से बच्ची सहित मवेशी की हुई मौत और वृद्ध के घायल हो जाने की सूचना मिलते ही गांव के लोग मनोहर लाल के घर पर एकत्र हो गए वहीं मामले की जानकारी होने पर सीओ समर बहादुर, रेउसा इंस्पेक्टर नोवेंद्र सिरोही सहित लेखपाल घटनास्थल पर पहुंचे पुलिस ने बच्ची के शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भिजवाया है. तहसील प्रशासन ने दैवीय आपदा के तहत मिलने वाली सहायता देने का परिवार को आश्वासन दिया है.
ये भी पढ़ें- मैनपुरी में दोहरे हत्याकांड से मचा हड़कंप, जिंदगी से जंग लड़ती 8 माह की बच्ची


पड़ोसी से विवाद के बाद हार्ट अटैक से महिला की मौत, परिजनों ने किया हंगामा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज