अपना शहर चुनें

States

सोनभद्र: बाल्टी भर पानी में 1 लीटर दूध मिलाकर 85 बच्चों को पिलाया

सोनभद्र के इस प्राथमिक विद्यालय में पहले रसोइया ने भगोने में एक बाल्टी पानी डाला, फिर उसमें एक लीटर दूध मिलाकर गरम किया और 85 बच्चों को पीने को दे दिया.
सोनभद्र के इस प्राथमिक विद्यालय में पहले रसोइया ने भगोने में एक बाल्टी पानी डाला, फिर उसमें एक लीटर दूध मिलाकर गरम किया और 85 बच्चों को पीने को दे दिया.

मामले में एबीएसए (ABSA) ने प्राथमिक स्कूल, सलईबनवा, सोनभद्र (Sonbhadra) के आरोपी शिक्षामित्र को कार्यमुक्त कर दिया है.

  • Share this:
सोनभद्र. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सोनभद्र (Sonbhadra) में चोपन ब्‍लॉक (Chopan Block) के सलईबनवा प्राथमिक स्कूल में मिर्जापुर (Mirzapur) की तरह ही मिड डे मील (Midday Meal) में अनियमितता का मामला सामने आया है. यहां बुधवार को बच्चों को मेन्‍यू के मुताबिक, दूध देते समय 1 लीटर दूध (Milk) में एक बाल्टी पानी मिलाया गया और उसे 85 बच्चों को बांटा गया. बाद में जब अधिकारियों तक सूचना पहुंची तो दोबारा बच्चों को दूध बांटा गया. एबीएसए ने प्राथमिक स्कूल सलईबनवा पहुंचकर दोषी शिक्षामित्र को कार्यमुक्त कर दिया. दूध में पानी मिलाते का एक वीडियो भी सामने आया है, जिससे शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है.

सोनभद्र के चोपन ब्‍लॉक के सलईबनवा प्राथमिक स्कूल में बुधवार को मिड डे मील के मेन्यू के अनुसार, दूध देते समय एक बाल्टी पानी में 1 लीटर दूध मिलाकर गर्म किया गया और उसे बच्चों को बांट दिया गया. स्कूल की रसोईया फूलवंती ने बताया कि उसे एक ही लीटर दूध उपलब्ध कराया गया था और उसने उसे 1 लीटर दूध में एक बाल्टी पानी मिलाकर बच्चों को दे दिया.

शिक्षामित्र पर गिरी गाज



वहीं, दूसरी तरफ मौके पर जांच में पहुंचे एबीएसए मुकेश कुमार ने बताया कि पहली नजर में तो गलती शिक्षामित्र की लगती है और उसे कार्यमुक्त कर दिया गया है. हालांकि, बाद में भूल सुधार करते हुए बच्चों को दोबारा भी दूध बांटा गया था.
sonbhadra ABSA
एबीएसए मुकेश कुमार ने बताया कि शिक्षामित्र को कार्यमुक्त कर दिया गया है.


वीडियो बनाने वाले युवक राजवंश चौबे ने बताया कि जब वह मौके पर गए तो मौके पर उन्‍होंने पानी मिलाते हुए खुद अपनी आंखों से देखा था. पूछने पर बताया गया कि वह तो रसोइया है, जो मिलता है वही बच्‍चों को पिलाते हैं.

रिपोर्ट: अनूप श्रीवास्तव

यें भी बढ़े

विरोध के बाद आज पहली बार BHU में नजर आएंगे संस्कृत प्रोफेसर फिरोज खान

अयोध्या: महंत कमल नयन दास ने लगाया उपेक्षा का आरोप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज