होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /सोनभद्र पुलिस लाइन में चल रहा था सेक्स रैकेट? जानें क्या है पूरा मामला और हकीकत

सोनभद्र पुलिस लाइन में चल रहा था सेक्स रैकेट? जानें क्या है पूरा मामला और हकीकत

Sonbhadra News: पुलिस अधीक्षक ने मामले को बताया फर्जी

Sonbhadra News: पुलिस अधीक्षक ने मामले को बताया फर्जी

Sonbhadra Police News: कथित शिकायतकर्ता ने सामूहिक रुप से बताया कि यह वायरल पत्र पूरी तरह से फर्जी है. उन्होंने बताया क ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पुलिसकर्मियों के नाम से लिखा गया शिकायती पत्र निकला फर्जी
पत्र में सोनभद्र पुलिस लाइन में सेक्स रैकेट चलने का किया गया था दावा
पुलिस अधीक्षक ने शिकायतकर्ता पुलिसकर्मियों से बात कर मामले का किया पटाक्षेप

रिपोर्ट: रंगेश सिंह

सोनभद्र. यूपी के सोनभद्र जनपद में एक वायरल पत्र ने पुलिस विभाग की नींद उड़ा दी. वायरल पत्र में दो पुलिसकर्मियों की पत्नियों पर सेक्स रैकेट और मादक पदार्थों की तस्करी करने का आरोप लगा. 17 पुलिसकर्मियों के नाम से लिखे गए इस वायरल पत्र में पुलिस लाइन आवास कॉलोनी में पूरा रैकेट संचालित करने का आरोप लगा. इस वायरल पत्र के सामने आने के बाद पुलिस अधीक्षक ने सभी शिकायतकर्ताओं को बुलाकर बात किया और फिर मीडिया के सामने पूरे प्रकरण का पटाक्षेप किया.

कथित शिकायतकर्ता ने सामूहिक रुप से बताया कि यह वायरल पत्र पूरी तरह से फर्जी है. उन्होंने बताया कि इस तरह की शिकायत पहले भी की गई थी. जो जांच में फर्जी पाया गया था. शिकायतकर्ताओं ने कहा कि उन्होंने पुलिस अधीक्षक को पत्र देकर अज्ञात के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. शिकायतकर्ता पुलिसकर्मियों ने बताया कि यह मामला पूरी तरह से फर्जी है. किसी ने फर्जी तरीके से हमलोगों के नाम और हस्ताक्षर बनाकर शिकायत की है.

" isDesktop="true" id="4981883" >

पुलिस अधीक्षक ने कही ये बात
वहीं पुलिस अधीक्षक डॉ यशवीर सिंह ने बताया कि सभी 17 शिकायतकर्ता उनके पीछे खड़े हैं और सभी ने किसी भी प्रकार की शिकायती पत्र न देने की बात कही है. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पहले भी इस तरह की शिकायत अज्ञात के द्वारा किया गया था. जिसकी जांच कराई गई थी जो पूरी तरह से फर्जी पाया गया. शिकायतकर्ताओं की तरफ से हमें एक पत्र आज दिया गया है. जिसमें इस विषय में जांच करके उस फर्जी शिकायतकर्ता के खिलाफ कार्रवाई करने और एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है.

Tags: Sonbhadra News, UP police

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें