अपना शहर चुनें

States

सोनभद्र हत्याकांड: 150 से ज्यादा हमलावरों को गांववालों ने रोका तो बिछा दी लाशें

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के घोरावल तहसील के उभ्भा गांव में हुए हत्याकांड ने हर तरफ सनसनी फैला दी है. घटना के चश्मदीदों का कहना है कि करीब 30 ट्रैक्टर में भरकर आए 150 लोगों के पास कई असलहे थे.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के घोरावल तहसील के उभ्भा गांव में हुए हत्याकांड ने हर तरफ सनसनी फैला दी है. घटना के चश्मदीदों का कहना है कि करीब 30 ट्रैक्टर में भरकर आए 150 लोगों के पास कई असलहे थे. असलहों की संख्या पर मतभेद है. कई लोग कह रहे हैं कि 10 राइफलें थी तो कुछ का कहना है कि बंदूकों की संख्या और ज्यादा थी. हमलावरों को रोकने के लिए गांव वालों ने गुहार लगाई तो उन पर गोलियों की बौछार कर दी गई.

गांव के निवासी अमर सिंह का कहना है कि कई लोगों की तो गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई. कुछ लोगों को आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया गया. अमर सिंह का कहना है कि जमीन को लेकर पहले से विवाद और इस मुकदमा चल रहा है. हम लोगों की उम्मीद नहीं थी कि इतनी संख्या में हम पर हमला कर दिया जाएगा. अमर सिंह अपने बयान में किसी प्रधान का जिक्र करते हैं लेकिन उनके बारे में कुछ भी स्पष्ट बोलने से डर रहे हैं. गांव के कुछ अन्य लोगों का भी कहना है कि लड़ाई दूसरे पक्ष की तरफ से शुरू की गई और निर्दयतापूर्वक हमला किया गया.

इस घटना के बाद चीख-पुकार मच गई. गांव में सन्नाटा फैला हुआ है. गांव वालों की समझ से परे है कि उन पर इतना बड़ा हमला कैसे हुआ?




विपक्ष सरकार पर हमलावर
सरकार इस मामले मे त्वरित कार्रवाई का आश्वासन दे रही है तो विपक्ष का आरोप है कि राज्य में अपराधी बेलगाम हो चुके हैं. कांग्रेस ने राज्य सरकार को आडे़ हाथों लेते हुए पूछा है कि सोनभद्र में हुए इस सामुहिक नरसंहार का जवाब कौन देगा. कांग्रेस ने सीएम योगी का इस्तीफा मांगा है. कांग्रेस ने मृतकों के आदिवासी गोंड समुदाय से होने का मामला भी उठाया है. कांग्रेस ने कहा है कि इस हत्याकांड ने फिर साबित कर दिया है कि दबंगों और बाहुबलियों को संरक्षण देने वाली सरकार को आदिवासियों की चिंता नहीं है.



कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि बीजेपी राज में अपराधियों के हौसले इतने बढ़ गए हैं कि दिन दहाड़े हत्याओं का दौर जारी है. वहीं समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने अपराध के मसले पर राज्यपाल से भी मुलाकात की है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि सोनभद्र का कांड पूरे प्रदेश की हालत बता रहा है. भाजपा सरकार को यह समझना चाहिए-अगर सामाजिक अस्थिरता रही तो आर्थिक स्थिरता नामुमकिन है.

सीएम ने दिया पांच लाख मुआवजा
सीएम योगी ने इस घटना में जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों को पांच-पांच लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है. साथ ही उन्होंने जिला कलेक्टर यह भी पूछा है कि आखिर क्यों गांव वालों पट्टे नहीं दिए गए.
ये भी पढ़ें:

संभल: शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को 50 लाख देगी योगी सरकार

कुरान बांटने की शर्त वापस, अब इस आधार पर ऋचा पटेल को जमानत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज