सोनभद्र कांड पर योगी सरकार को घेरने की तैयारी में TMC, हिरासत में लिए गए

इससे पहले मिर्जापुर के कमिश्नर आनंद कुमार सिंह ने मिर्जापुर और भदोही जिले के डीएम को पत्र लिखकर सोनभद्र जिले में किसी भी विशिष्ट व्यक्ति, राजनीतिक और गैर-राजनीतिक व्यक्ति के प्रवेश के लिए अपने जिले में मार्ग रोकने का निर्देश दिया है.

News18Hindi
Updated: July 20, 2019, 10:53 AM IST
सोनभद्र कांड पर योगी सरकार को घेरने की तैयारी में TMC, हिरासत में लिए गए
TMC सांसद करेंगे पीड़ितों से मुलाकात
News18Hindi
Updated: July 20, 2019, 10:53 AM IST
उत्तर प्रदेश के सोनभद्र हत्याकांड मामले में मारे गए 10 लोगों के परिजनों से मिलने के लिए शनिवार को टीएमसी नेता डेरेक ओबेरायन के नेतृत्व में ये चारों सांसद सोनभद्र पहुंच रहे है. वाराणसी एयरपोर्ट पर चारों सांसदों को जिला प्रशासन ने हिरासत में ले लिया. जानकारी के मुताबिक टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रॉयन के नेतृत्व में चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल आज यूपी के सोनभद्र का दौरा करेगा. इसमें सुनील मंडल, अबीर रंजन बिस्वास और उमा सरेन है. ये प्रतिनिधिमंडल पीड़ितों से मुलाकात करेगा.

जिले में लगी धारा-144

इससे पहले मिर्जापुर के कमिश्नर आनंद कुमार सिंह ने मिर्जापुर और भदोही जिले के डीएम को पत्र लिखकर सोनभद्र जिले में किसी भी विशिष्ट व्यक्ति, राजनीतिक और गैर-राजनीतिक व्यक्ति के प्रवेश के लिए अपने जिले में मार्ग रोकने का निर्देश दिया है. शुक्रवार की शाम को मीरजापुर आयुक्त की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि सोनभद्र जिले के तहसील घोरावल के उभ्भा गांव में 17 जुलाई को भूमि पर कब्जे को लेकर हुए विवाद और गोलीकांड में 10 लोगों की मौत और 28 लोगों के घायल होने के बाद सोनभद्र जिला मैजिस्ट्रेट द्वारा धारा 144 लागू किया गया है.

हिरासत में टीएमसी सांसद


बिना मुलाकात करे नहीं जाऊंगी- प्रियंका

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वहां पहुंची. हालांकि, पुलिस ने उन्हें जाने से रोक दिया और हिरासत में ले लिया. फिलहाल चुनार गेस्टहाउस में रुकीं प्रियंका ने शुक्रवार रात एक के बाद एक ट्वीट करके कहा है कि 'मैं गरीब आदिवासियों की व्यथा जानने आई हूं. उत्तर प्रदेश प्रशासन ने पिछले नौ घंटे से मुझे गिरफ्तार करके किले में रखा हुआ है. प्रशासन कह रहा है कि मुझे 50,000 की जमानत देनी है, नहीं तो मुझे 14 दिन जेल की सजा दी जाएगी.' प्रियंका ने यह भी कहा कि पुलिसवाले मुझे सोनभद्र नहीं जाने देंगे, ऐसा उन्हें 'ऊपर से ऑर्डर' है.

उन्होंने आगे लिखा, 'मैंने ना कोई कानून तोड़ा और ना ही कोई अपराध किया. प्रशासन चाहे तो मैं अकेली उनके साथ पीड़ित परिवारों से मिलने गांव जाना चाहती हूं. इसके बावजूद सरकार ने तमाशा किया है. मैं इस संदर्भ में जमानत को अनैतिक मानती हूं और इसे देने को तैयार नहीं हूं. मेरी साफ मांग है कि मुझे पीड़ित आदिवासियों से मिलने दिया जाए. सरकार को जो उचित लगे वह करे. अगर सरकार मुझे पीड़ितों से मिलने के कारण जेल में डालना चाहे तो मैं पूरी तरह से तैयार हूं.'
Loading...

गेस्ट हाउस की कटी बिजली-पानी

इससे पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया था कि चुनार गेस्ट हाउस में बिजली-पानी और खाने की व्यवस्था नहीं की गई है. उनका कहना है कि प्रियंका गांधी को गिरफ्तार करने के बाद गेस्टहाउस की बिजली काट दी गई है. प्रियंका समेत सभी लोग गर्मी और उमस से बेहाल हैं.

ये भी पढ़ें:

सोनभद्र कांड: चुनार गेस्ट हाउस में देर रात तक जागती रही प्रियंका गांधी...

सोनभद्र कांड पर गर्म हुई सियासत, प्रियंका गांधी बोलीं-बिना मिले नहीं जाऊंगी
First published: July 20, 2019, 10:10 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...