Home /News /uttar-pradesh /

wife was stoping husband from going to work man murdered her and committed suicide

सोनभद्र: पति को काम पर जाने से रोक रही थी पत्नी, झगड़े में दोनों की मौत

 पति ने शीशे की बोतल से पत्नी के पेट में ताबड़तोड़ वार करके उसे अधमरा कर दिया और फिर उसी बोतल के टुकड़े को अपने पेट में घोंपकर घायल कर लिया.

पति ने शीशे की बोतल से पत्नी के पेट में ताबड़तोड़ वार करके उसे अधमरा कर दिया और फिर उसी बोतल के टुकड़े को अपने पेट में घोंपकर घायल कर लिया.

स्थानीय लोगों का कहना है कि पति को काम पर वापस ओडिशा जाना था. पत्नी ने अपनी खराब तबियत का हवाला देते हुए उससे काम पर न जाकर उसका इलाज कराने को कहा. इसी बात को लेकर दोनों में झगड़ा हो गया. इसी दौरान गुस्साए पति ने अपनी पत्नी के सिर पर बोतल से वार करने के बाद अपने पेट में बोतल का टुकड़ा को घोंप लिया.

अधिक पढ़ें ...

रंगेश सिंह
सोनभद्र. अपने पति-पत्नी विवाद तो खूब सुना होगा, लेकिन अगर बंद कमरे की लड़ाई अगर दोनों की जिंदगी के अंत तक पहुंच जाए तो रोंगटे खड़े हो जाते हैं. एक पति ने कमरा बंद करके पत्नी से खूब लड़ाई की. दोनों के बीच रात भर लड़ाई होती रही और फिर सुबह सबको उसका दुःखद अंत देखने को मिला. जब पति ने शीशे की बोतल से पत्नी के पेट में ताबड़तोड़ वार करके उसे अधमरा कर दिया और फिर उसी बोतल के टुकड़े को अपने पेट में घोंपकर घायल कर लिया. सुबह देर तक दरवाजा ना खुलने पर दोनों के बच्चों ने शोर किया तो आसपास के लोगों ने तत्काल इसकी सूचना डायल 112 को दी. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तत्काल दोनों को चोपन सीएचसी पहुंचाया, जहां दोनों की ही मौत हो गई.

यह मामला कोन थाना क्षेत्र के करईल गांव की है. कोन थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत करइल के टोला महुराव में पति और पत्नी के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया, जिससे गुस्साए पति ने अपनी पत्नी के सिर पर बोतल से वार करने के बाद अपने पेट में बोतल का टुकड़ा को घोंप लिया. इससे दोनों बुरी तरह से घायल हो गए. पुलिस ने स्थानीय लोगों के सहयोग से दोनों को कमरे से बाहर निकालते हुए इलाज के लिए कोन अस्पताल लाया, जहां स्थिति गंभीर देखकर डॉक्टर ने घायल दंपति को चोपन के लिए रेफर कर दिया, जहां इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई.

ये भी पढ़ें- ज्ञानवापी मस्जिद के तहखाने का एक और वीडियो वायरल, हिन्दू पक्ष बोला- यह तो मंदिर का सबूत

बता दें कि दंपती के दो पुत्र लाला उर्फ नीतीश (13 वर्ष), शिवम (7 वर्ष) और पुत्री रिकू (13 वर्ष) हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि पति को काम पर वापस ओडिशा जाना था. पत्नी ने अपनी खराब तबियत का हवाला देते हुए उससे काम पर न जाकर उसका इलाज कराने को कहा. इसी बात को लेकर दोनों में विवाद होने लगा. उन्होंने बेटी रिकू को कमरे से बाहर निकाल दिया, फिर दोनों में हाथापायी होने लगी.

ये भी पढ़ें- पुण्यतिथि विशेष : कमांडर अर्जुन सिंह भदौरिया की लालसेना ने चंबल में छुड़ा दिए थे अंग्रेजों के छक्के

इस मामले में सोनभद्र के एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया कि सरदार उर्फ शारदा चेरो ओडिशा में काम करता था, जो कुछ दिन पहले अपने घर आया था और शनिवार को उसकी वापसी की टिकट भी बनी हुई थी. इसी बीच सुबह उसकी पत्नी फुलवा देवी से किसी बात को लेकर विवाद हो गया और वह पत्नी के ऊपर शीशे के बोतल से वार करते हुए अपने पेट में भी बोतल को घोंप लिया. इससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए और इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई. पुलिस इस मामले में आगे की कार्रवाई में जुट गई है.

Tags: Murder case, Sonbhadra News, UP police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर