पत्‍थरबाजों के समर्थन में SP सांसद बोले- कोरोना वारियर्स नहीं, दंगाइयों पर हुआ था पथराव
Moradabad News in Hindi

पत्‍थरबाजों के समर्थन में SP सांसद बोले- कोरोना वारियर्स नहीं, दंगाइयों पर हुआ था पथराव
मुरादाबाद पुलिस अधीक्षक से मुलाकात करने पहले सपा सांसद डॉ सैय्यद तुफैल हसन और विधायक.

सपा सांसद ने मंगलवार को मुरादाबाद (Moradabad) के एसएसपी प्रभाकर चौधरी (SSP Prabhakar Chaudhary) से समाजवादी पार्टी (Samajvadi Party) के चार विधायकों के एक प्रतिनिधि मंडल के साथ जाकर मुलाक़ात की.

  • Share this:

  • फरीद शम्‍सी


मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद (Moradabad) के नवाबपुरा इलाके में कोरोना वारियर्स पर हमले के आरोपी पत्थरबाजों के बचाव में अब समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ सैय्यद तुफैल हसन (Dr. Syed Tufail Hassan) खुल कर सामने आ गये हैं.  सपा सांसद ने मंगलवार को मुरादाबाद के एसएसपी प्रभाकर चौधरी से समाजवादी पार्टी के चार विधायकों के एक प्रतिनिधि मंडल के साथ जाकर मुलाक़ात की. एसएसपी से मुलाकात के बाद, सपा सांसद ने डॉ. एसटी हसन ने कहा है कि पत्थरबाजों ने जो पथराव किया था, वह पुलिस या डॉक्टर पर नही, बल्कि दंगाइयों के ऊपर किया गया था.
सपा सांसद डॉ. एसटी हसन का कहना है कि उस घटना में जो महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है, वो महिलायें घटना स्थल से लगभग 300 मीटर दूर थीं. बहुत से लोग ऐसी धाराओं में जेल चले गये हैं, जिनमे उन्हें नहीं जाना चाहिए था. सपा सांसद ने कहा कि नवाबपुरा के लोग बहुत परेशान हैं. बहुत से लोग जेल में काफी दिनों से बंद हैं, हम सब ने उनके लिए इंसाफ की मांग की है. समाजवादी पार्टी के इस प्रतिनिधि मंडल में सपा के चार विधायक और जिला अध्यक्ष सांसद के साथ एसएसपी से मिलने वालो में शामिल थे.





पुलिस और डॉक्‍टर्स की टम पर हुआ था पथराव
उल्‍लेखनीय है कि मुरादाबाद के नागफनी थाना इलाके के नवाबपुरा मोहल्ले में स्वास्थ विभाग के डॉक्टरों और पुलिस टीम पर 15 अप्रैल को हमला हुआ था. इस हमले के बाद, पुलिस ने कार्रवाही करते हुए इस मामले में अब तक 7 महिलाओं सहित  45 लोगों को जेल भेजा गया है. इनमें से दो लोगों पर एनएसए के तहत भी कार्रवाई हुई है. वहीं, अब समाजवादी पार्टी के सांसद के इस बयान पर विपक्ष ने सवाल खडे किए हैं. विपक्ष का सवाल है कि आखिर सपा सांसद किस आधार पर ये दावा कर रहे हैं कि पथराव पुलिस या डॉक्टरों पर नहीं, बल्कि दंगाइयों पर हुआ था. जबकि सब जानते हैं कि हमले में कई पुलिस वाले और डॉक्टर घायल हुए थे.



सवाल- कहां से आए दंगाई?
वहीं, विपक्ष ने यह भी सवाल खड़ा किया है कि आखिरकार दंगाई कहा से आ गये और वहां कौन सा दंगा हुआ था?  क्या सपा सांसद पथराव में घायल पुलिस वालों और डॉक्टरो को दंगाई बता रहे हैं? आखिर आज चार महीने बाद सपा सांसद हमलावरों का बचाव क्यों कर रहे हैं. वही इस मामले में मुरादाबाद के एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि सपा सांसद व विधायक विधायकों का प्रतिनिधिमंडल उनसे शिष्टाचार मुलाकात करने आया था. उन्होंने सांसद से इस तरह की हुई किसी भी बात से ना तो इंकार किया है और ना ही इक़रार किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading