अपना शहर चुनें

States

यूपी में सरकारी अस्पतालों की हकीकत जानने वालों को भेजा जाता है जेल- AAP सांसद संजय सिंह

यूपी में सरकारी अस्पतालों की हकीकत जानने वालों को भेजा जाता है जेल
यूपी में सरकारी अस्पतालों की हकीकत जानने वालों को भेजा जाता है जेल

बता दें कि सोमनाथ भारती (AAP MLA Somnath Bharti) को यूपी के अस्पतालों पर दिए गए विवादित बयान को लेकर अमेठी (Amethi) पुलिस ने गिरफ्तार कर किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 12, 2021, 6:40 PM IST
  • Share this:
सुल्तानपुर. आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सदस्‍य संजय सिंह (AAP MP Sanjay Singh) आप विधायक सोमनाथ भारती (AAP MLA Somnath Bharti) के जेल भेजे जाने के बाद मंगलावर को सुलतानपुर (Sultanpur) पहुंचे. आप कार्यालय में मीडिया से बातचीत के दौरान प्रदेश और केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. राज्यसभा सदस्‍य संजय सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में तानाशाही की सरकार स्कूल और अस्पतालों की हकीकत को जानने वालों को जेल भेजा जाता है. उन्होंने कहा कि हम और हमारे मंत्री जब भी यहां के स्कूलों की हकीकत जानना चाहते हैं तो योगी सरकार के हाथ पैर फूल जाते हैं. क्या हमारे सरकारी स्कूल में जहा नौनिहाल पढ़ते हैं उनकी इतनी दुर्दशा है या कोई भूतिया जगह है. जहां कोई जा नही सकता.

यूपी पुलिस पर आरोप लगाते हुए संजय सिंह ने कहा कि हमारे विधायक सोमनाथ भारती के साथ पुलिस ने ही उन पर हमला कराया. और उन्हें जेल भेज दिया गया. उन्होंने कृषि कानून के बारे में कहा कि उन्हें वापस लिया जाना चाहिए और आम आदमी पार्टी अरविंद केजरीवाल शुरू से ही किसानों के साथ हैं और हमेशा रहेंगे. इसके अलावा संजय सिंह ने रेडी पटरी दुकानदारों का पक्ष लेते हुए कहा कि सुल्तानपुर और उत्तर प्रदेश में उनके साथ जबरदस्ती और अन्याय हो रहा है. इस पर रोक लगनी चाहिए. सोमनाथ भारती के गिरफ्तारी मामले पर संजय सिंह ने कहा कि उनकी सुनवाई की अगली तारीख 13 जनवरी को है, इसके बाद ही हम कोई रणनीति बनाएंगे.

UP: योगीराज में बेरोजगार के चेहरों पर लौटी खुशी, अब तक 24.30 लाख युवाओं को मिला रोजगार



बता दें कि सोमनाथ भारती को यूपी के अस्पतालों पर दिए गए विवादित बयान को लेकर अमेठी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और अमेठी के जायस में स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आप विधायक का मेडिकल परीक्षण कराया गया और फिर वहां से उन्हें सुल्तानपुर के दीवानी न्यायालय में पेश किया गया. इस दौरान एमपी-एमएलए कोर्ट में सुनवाई करते हुए अदालत ने भारती की जमानत अर्जी खारिज कर दी. फ़िलहाल कोर्ट ने सोमनाथ भारती को 14 दिनों के लिए जेल भेज दिया है.
जेल भेजे जाने की सूचना जैसे ही आप कार्यकर्ताओं को लगी तो उन्होंने दीवानी के बाहर ही प्रदर्शन करना शुरू कर दिया और योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे. उनके खिलाफ जगदीशपुर कोतवाली में धारा 505 और 153A के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज