GST पर बोले पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा- जब रेट फिक्स किया था तो दिमाग कहां था?

वित्त मंत्री का नाम बिना यशवंत सिन्हा ने कहा कि आज जो बदलाव जीएसटी में किया जा रहा है. वह ये साबित करता है कि जीएसटी लगाते समय दिमाग का इस्तेमाल नहीं किया गया. इसी के चलते ये संशोधन करना पड़ा.

  • Share this:
सुल्तानपुर में पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने रविवार को कहा कि मौजूदा राजनीति का माहौल बहुत गड़बड़ाया हुआ है. यशवंत सिन्हा आजाद समाज सेवी संस्था के कार्यक्रम में शामिल होने आए थे. उन्होंने कहा कि जो लोग सत्ता में हैं, वे देश में प्रजातंत्र को समाप्त करना चाहते हैं. उनकी हर हरकत प्रजातंत्र को डैमेज करती है. यशवंत सिन्हा ने कहा कि तीन हिंदी भाषी राज्यों की जनता ने जो संकेत दिया है, वो शुभ संकेत हैं.



काशी में अनुपम खेर का मॉर्निंग वॉक, पाक पीएम के बयान पर ली चुटकी, राहुल गांधी को दी नसीहत



जीएसटी पर पूर्व वित्त मंत्री ने कहा​ कि 460 वस्तुओं का रेट कम किया गया. जब रेट फिक्स किया गया था तो दिमाग कहां था? वित्त मंत्री का नाम बिना यशवंत सिन्हा ने कहा कि आज जो बदलाव जीएसटी में किया जा रहा है. वह ये साबित करता है कि जीएसटी लगाते समय दिमाग का इस्तेमाल नहीं किया गया. इसी के चलते ये संशोधन करना पड़ा.





सीएम योगी बोले- हम ही करेंगे राम मंदिर निर्माण, जनेऊ दिखाकर भटकाने का हो रहा प्रयास
किसानों के मुद्दे पर यशवंत सिन्हा ने कहा कि एक एकड़ तक के किसान को 12 हजार वार्षिक बेसिक इनकम उपलब्ध कराया जाय. एक एकड़ से ज्यादा वाले किसानो को 18 हज़ार रुपए वार्षिक आय उपलब्ध कराई जाय. इसमें सरकार पर एक साल में 2 लाख करोड़ तक खर्च आयेगा. जिसका 70 फीसदी केंद्र और 30 फीसदी राज्य सरकार वहन करे.



ये भी पढ़ें: 



अयोध्या: क्या दो बाहुबली नेताओं में वर्चस्व की जंग ने ली ठेकेदार सोनू सिंह की जान?



बाराबंकी: पीएल पुनिया का जोरदार स्वागत, बोले- रावण की तरह BJP कर रही हनुमानजी का अपमान



Facebook पर अपनी ही भांजी की बनाई फेक आईडी और वायरल कर दीं फर्जी अश्लील तस्वीरें



कानपुर: चलती ट्रेन में पत्नी को उतारा मौत के घाट, गिरफ्तार



सीतापुर में पति-पत्नी ने फांसी लगाकर जान दी, 8 महीने पहले हुई थी शादी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज