Home /News /uttar-pradesh /

यशवंत सिन्हा का मोदी और शाह पर हमला, कहा- प्रजातंत्र खत्म कर देना चाहते हैं

यशवंत सिन्हा का मोदी और शाह पर हमला, कहा- प्रजातंत्र खत्म कर देना चाहते हैं

यशवंत सिन्हा ने कहा की मौजूदा राजनीति का माहौल बहुत गड़बड़ाया हुआ है. जो लोग सत्ता में हैं वे देश में प्रजातंत्र को समाप्त करना चाहते हैं और उनकी हर हरकत प्रजातंत्र को डैमेज करती है.

    सुल्तानपुर के आजाद सेवा समिति कार्यक्रम में शामिल होने आए पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर बड़ा हमला किया है. उन्होंने कहा कि जो लोग सत्ता में हैं वो प्रजातंत्र ख़त्म कर देना चाहते हैं.

    वहीं हाल ही में संपन्न चुनाव को लेकर उन्होंने सरकार पर तंज किया है. पूर्व वित्त मंत्री ने कहा की तीन हिंदी राज्यों में जनता ने शुभ संकेत दिये है. गौरतलब है कि आप नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह के आजाद सेवा समिति कार्यक्रम में शामिल होने यशवंत सिन्हा रविवार को शहर पहुंचे.

    मंच से लोगो को संबोधित करते हुये यशवंत सिन्हा ने कहा की मौजूदा राजनीति का माहौल बहुत गड़बड़ाया हुआ है. जो लोग सत्ता में हैं वे देश में प्रजातंत्र को समाप्त करना चाहते हैं और उनकी हर हरकत प्रजातंत्र को डैमेज करती है.

    वहीं तीन राज्यो में आये चुनाव परिणाम पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुये पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि तीन हिंदी भाषी राज्यों की जनता ने जो संकेत दिए हैं, वो शुभ संकेत है. जीएसटी पर बोलते हुये यशवंत सिन्हा ने कहा की 460 वस्तुओं का रेट कम किया गया है. जब रेट फिक्स किया गया था तो दिमाग कहाँ था.

    वित्त मंत्री अरुण जेटली का बिना नाम लिये यशवंत सिन्हा ने कहा कि आज जो बदलाव जीएसटी में किया जा रहा है. वो ये प्रूफ करता है कि जीएसटी लगाते समय दिमाग का इस्तेमाल नहीं किया गया. जिसके चलते ये संसोधन करना पड़ रहा है. (रिपोर्ट-आलोक श्रीवास्तव)

    ये भी पढ़ें:

    संजय सिंह का आरोप, GST और नोटबंदी ने तोड़ दी आम आदमी की कमर

    जौनपुर डबल मर्डर केस: मीडिया कैमरे से हुआ खुलासा, 6 आरोपी गिरफ्तार

    पानी की टंकी पर चढ़ इस महिला ने दी आत्मदाह की धमकी, जाने क्या है मामला

    Tags: Amit shah, BJP, Narendra modi, Pm narendra modi, Uttar pradesh news, Uttar Pradesh Politics, Yashwant sinha

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर