• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • UP: शैक्षिक संस्थानों में ग्रीष्मकालीन और शीतकालीन अवकाश को किया जा सकता है खत्म 

UP: शैक्षिक संस्थानों में ग्रीष्मकालीन और शीतकालीन अवकाश को किया जा सकता है खत्म 

उत्‍तर प्रदेश के उपमुख्‍यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए.

उत्‍तर प्रदेश के उपमुख्‍यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए.

उपमुख्‍यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा (Deputy CM Dr. Dinesh Sharma) की मौजूदगी में शिक्षा कमेटी (Education Committee) ने फैसला लिया गया है कि सत्र को नियमित करने के लिए जरूरत पड़ने पर ग्रीष्म और शीतकालीन अवकाश को न्यून करने पर भी विचार किया जाएगा.

  • Share this:
लखनऊ. कोविड-19 (COVID-19) के संक्रमण को देखते हुए 3 मई तक जारी लॉकडाउन (Lockdown) के खत्म होने के तीन हफ्तों के बाद विश्वविद्यालयों और तकनीकी संस्थानों की बची हुई परीक्षाएं हो सकती हैं. गुरुवार को उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा (Deputy CM Dr. Dinesh Sharma) ने बैठक कर इस पर विस्तार से चर्चा की. बैठक के दौरान प्रदेश के बेसिक, माध्यमिक, उच्च, प्राविधिक और व्यवसायिक शिक्षा विभाग के अपने अलग-अलग शैक्षिक चैनल बनाए जाने पर विचार किया गया.

चैनल के गठन के लिए एकेटीयू वाइस चांसलर की अध्यक्षता में कमेटी भी गठित कर दी गई है. डॉं. दिनेश शर्मा ने उच्च शिक्षा, प्राविधिक शिक्षा एवं व्यवसायिक शिक्षा की बची हुई परीक्षाओं को लॉकडाउन खत्म होने के तीन सप्ताह के बाद शुरू करने के लिए कहा गया है. साथ ही, किसी भी परीक्षा की तैयारी के लिए विद्यार्थियों को कम से कम 3 सप्ताह तक का समय देने का निर्देश दिया गया है. वहीं, इन परीक्षाओं का रिजल्‍ट जुलाई के पहले सप्‍ताह तक जारी करने का भी निर्देश दिया गया है.

प्रो. विनय पाठक की अध्यक्षता में बनाई गई कमेटी
बैठक के दौरान बेसिक, माध्यमिक, उच्च शिक्षा और प्राविधिक शिक्षा विभाग के अपने अलग-अलग शैक्षिक चैनल बनाए जाने पर भी विचार-विमर्श किया गया. इसके लिए, वाइस चांसलर एकेटीयू प्रो. विनय कुमार पाठक की अध्यक्षता में एक कमेटी भी बनाई गई है. जिसमें महानिदेशक बेसिक शिक्षा विजय किरण आनंद, विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा राजेश कुमार, विशेष सचिव उच्च शिक्षा मनोज कुमार और विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा सुनील चैधरी सदस्य होंगे. कमेटी को 1 सप्ताह के अंदर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए हैं.

ग्रीष्मकालीन और शीतकालीन अवकाश भी किए जा सकते हैं खत्म
शिक्षा कमेटी की बैठक में यह भी फैसला लिया गया है कि सत्र को नियमित करने के लिए जरूरत पड़ने पर ग्रीष्म और शीतकालीन अवकाश को न्यून करने पर भी विचार किया जाएगा. बैठक में  प्राविधिक शिक्षा की ऑनलाइन टीचिंग पर भी चर्चा की गई . अब तक लगभग 65 प्रतिशत कोर्स पूरा हो चुका है. 2470 लेक्चर ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर अपलोड किए जा चुके हैं.

बेसिक विभाग ने भी की ऑनलाइन लर्निंग की पहल
बैठक में बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से बताया गया है कि ऑनलाइन लर्निंग के लिए दूरदर्शन, आकाशवाणी, दीक्षा पोर्टल, टॉप पैरेन्टस् मोबाइल एप एवं वाट्सएप ग्रुप के जरिए बच्चों को लॉकडाउन अवधि के दौरान शिक्षा उपलब्ध करायी जा रही है.

बैठक में ये अधिकारी रहे मौजूद
बैठक में प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण, बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी, अपर मुख्य सचिव व्यवसायिक शिक्षा राधा चौहान, वाइस चांसलर एकेटीयू लखनऊ प्रो.विनय कुमार पाठक, विशेष सचिव माध्यमिक शिक्षा राजेश कुमार, विशेष सचिव उच्च शिक्षा मनोज कुमार एवं विशेष सचिव प्राविधिक शिक्षा  सुनील चैधरी सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें:

Lockdown: बुंदेलखंड के हैंडपंपों में पानी की जगह निकलने लगी शराब, हैरान रह गई पुलिस

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज