UP पंचायत चुनाव टालने को लेकर हाईकोर्ट में अर्जी का मैसेज वायरल, जानिए सच्चाई

यूपी में पंचायत चुनाव को रद कराने को लेकर सोशल मीडिया में एक मैसेज वायरल हो रहा है.

यूपी में पंचायत चुनाव को रद कराने को लेकर सोशल मीडिया में एक मैसेज वायरल हो रहा है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में पंचायत चुनावों (UP Panchayat Chunav) को रद करने के लिए योगी सरकार ने हाईकोर्ट में याचिका डाली है. सोशल मीडिया (Social Media) पर ऐसा मैसेज वायरल हो रहा है. इस पर न्यूज18 ने पड़ताल की. देखिये हमारी पड़ताल में क्या सामने आया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 14, 2021, 6:40 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में पंचायत चुनावों (UP Panchayat Chunav) के पहले चरण की वोटिंग कल 15 अप्रैल को होने जा रही है. इसके लिए पोलिंग पार्टियां भी रवाना हो गई हैं. लेकिन, आज बुधवार दोपहर से सोशल मीडिया (Social Media) पर एक मैसेज तेजी से वायरल हो रहा है. इस मैसेज के विषय में न्यूज18 को फोन करके भी कई लोगों ने जानकारी लेनी चाही.



वायरल मैसेज में क्या है?


इस वायरल मैसेज में कहा गया है कि सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से इलाहाबाद हाईकोर्ट को रिक्वेस्ट की गई है कि कोरोना के बढ़ते केसों के चलते पंचायत के चुनाव टाल दिये जाएं. मैसेज में बताया गया है कि हाईकोर्ट आज बुधवार की शाम ही इस पर सुनवाई करेगा और अपना फैसला देगा कि चुनाव होंगे या टाल दिये जायेंगे.
न्यूज18 बता रहा है कि ये मैसेज पूरी तरह से अफवाह हैं. पंचायती राज विभाग की निदेशक आइएएस किंजल सिंह ने इसे सिरे से खारिज किया है. उन्होंने कहा कि इस तरह की कोई बात नहीं है और ये मैसेज अफवाह से ज्यादा कुछ नहीं है. पंचायत चुनाव अपने तय कार्यक्रम के अनुसार होने जा रहा है. सरकार ने कोर्ट में ऐसी कोई अर्जी नहीं डाली है. पहले चरण के चुनाव कल 15 अप्रैल को होंगे और आगे के चुनाव अपने तय कार्यक्रम के तहत ही होंगे. किंजल सिंह ने अपील की है कि ऐसी अफवाहों पर ध्यान न दिया जाये.

वाराणसी DM की अपील- जरूरी न हो तो न आएं काशी, विश्वनाथ-अन्नपूर्णा मंदिर में दर्शन के नए नियम

Youtube Video




वायरल मैसेज में कहा गया है कि 'पंचायत चुनाव से जुड़ी इस वक्त की बड़ी खबर, यूपी सरकार ने पंचायत चुनाव को तत्काल रुप से स्थगित करने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट में डाली एप्लीकेशन. सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि Covid-19 के बढ़ते कदम को देखते हुए राज्य सरकार पंचायत चुनाव को इस समय स्थगित करने कि मांग उच्च न्यायलय से की है.

शाम 6 बजे तक होगी सुनवाई

सूत्र इस अफवाह को बल देने के लिए कुछ टीवी चैनलों के स्क्रीनशॉट भी सोशल मीडिया पर शेयर किये जा रहे हैं, जिसमें चुनाव को लेकर हाईकोर्ट में याचिका डालने की खबर दिखायी जा रही है. पता चला कि ये उस समय का स्क्रीनशॉट वायरल किया जा रहा है, जब 15 मार्च को हाईकोर्ट ने आरक्षण को लेकर चुनाव पर रोक लगा दी थी. इसे अफवाह का हिस्सा बनाकर परोसा जा रहा है. इस तरह के मैसेज को पंचायती राज विभाग के निदेशक किंजल सिंह ने सिरे से खारिज किया है. बता दें कि पंचायत चुनाव के तहत 15, 19, 26 और 29 अप्रैल को वोटिंग होनी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज