जेल में चला रहे थे यह कारोबार, अंदर जाने के लिए करते थे छोटे-छोटे क्राइम

ग्रेटर नोएडा (Greter Noida) पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह को गिरफ्तार किया है. यह गिरोह जेल से बाहर या कोर्ट की तारीख पर आते ही इसलिए थे कि जेल में नशे का सामान ले जा सकें.

News18Hindi
Updated: September 13, 2019, 10:37 AM IST
जेल में चला रहे थे यह कारोबार, अंदर जाने के लिए करते थे छोटे-छोटे क्राइम
प्रतीकात्मक फोटो- ग्रेटर नोएडा पुलिस ने ऐसे गिरोह का खुलासा किया है जो जेल के अंदर नशे का सामान ले जाता था.
News18Hindi
Updated: September 13, 2019, 10:37 AM IST
ग्रेटर नोएडा. बड़े से बड़े अपराधी आपने जेल (Jail) जाने से बचते हुए देखे होंगे. कुछ तो जेल के डर से देश तक छोड़ देते हैं. लेकिन हम जिन अपराधियों (Criminal) की बात कर रहे हैं वो जेल के अंदर आने की चाहत में छोटे-छोटे क्राइम (Crime) करते हैं. यह वो लोग हैं जिन्हें जेल जाने में अगर देर हो जाए तो इन्हें कारोबार में घाटा होने लगता है. ग्रेटर नोएडा (Greter Noida) पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह को गिरफ्तार किया है. यह गिरोह जेल से बाहर या कोर्ट की तारीख पर आते ही इसलिए थे कि जेल में माल ले जा सकें.

गिरोह का जेल में चलता है यह कारोबार  

जेल में चेकिंग के दौरान अक्सर नशीला सामान पकड़े जाने की खबरें आती हैं. ऊंचे दामों पर चरस-गांजा और स्मैक की सप्लाई की खबरें भी आम हैं. पुलिस के हत्थे चढ़ा यह गिरोह भी जेल के अंदर चरस, स्मैक, गांजा, नशे की गोलियां, सप्लाई करता था. गिरोह के कुछ सदस्य जेल के अंदर रहते थे तो कुछ जेल के बाहर रहकर नशे के सामान का इंतजाम करते थे.

जेल के अंदर ऐसे ले जाते थे नशे का सामान

ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर थाने की पुलिस के हत्थे चढ़े गिरोह ने अधिकारियों को बताया कि जेल के अंदर बंद सदस्यों को जब जमानत नहीं मिल पाती थी तो तारीख पर कोर्ट आने के दौरान उनके साथ नशे का सामान भेजा जाता था. इसके लिए चरस, स्मैक, गांजा और नशे की गोलियों को कैप्सूल, छोटी-छोटी मात्रा को पन्नी में लपेटकर गिरोह के सदस्य पानी और केले के साथ निगल लेते हैं.

इस तरह पुलिस के हत्थे चढ़ा गिरोह

काफी समय से पुलिस को सूचना मिल रही थी कि जेल के अंदर नशे का सामान पहुंचाया जा रहा है. लेकिन जेल के गेट पर सघन तलाशी होने के बावजूद कोई सुराग हाथ नहीं लग रहा था. लेकिन चेकिंग के दौरान अक्सर जेल के अंदर नशे का सामान मिल रहा था. फिर जब कोर्ट में तारीख पर आने वाले बंदियों पर निगाह रखी जाने लगी तो इस खेल का खुलासा हुआ.
Loading...

ये भी पढ़ें:- 

अलीगढ़ में कुछ छात्र नेताओं की घोषणा, वो बुर्के और टोपी में कॉलेज आएंगे तो हम भगवा वस्त्र पहनकर जाएंगे

चालान की रकम देखकर वाहन छोड़ा तो ऐसे में देनी पड़ सकती है दोगुनी पेनल्टी

जहां गाय पर बोल रहे थे PM मोदी, वहां ऐसे चलती है देश की सबसे गौशाला, 45 हजार हैं गोवंश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्रेटर नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 13, 2019, 10:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...