लाइव टीवी

मंदिर में चढ़ाया जा रहा है मिलावटी दूध और प्रसाद, छापे में हुआ खुलासा
Mathura News in Hindi

News18Hindi
Updated: June 8, 2019, 2:21 PM IST
मंदिर में चढ़ाया जा रहा है मिलावटी दूध और प्रसाद, छापे में हुआ खुलासा
प्रतीकात्मक फोटो.

मिलावटखोरों ने मंदिर के प्रसाद और भगवान पर चढ़ाए जाने वाले दूध को भी नहीं बख्शा. दूध और प्रसाद में भी मिलावट कर दी. इस बात का खुलासा खाद्य विभाग की छापेमारी के बाद हुआ है.

  • Share this:
मिलावटखोरों ने मंदिर के प्रसाद और भगवान पर चढ़ाए जाने वाले दूध को भी नहीं बख्शा. दूध और प्रसाद में भी मिलावट कर दी. इस बात का खुलासा खाद्य विभाग की छापेमारी के बाद हुआ है. कुछ दुकान के सैम्पल तो ऐसे थे जिसमे दूध कम और पानी ज्यादा था.

बीते कुछ महीने पहले खाद्य विभाग, मथुरा ने दानघाटी, बांकेबिहारी, गोवर्धन परिक्रमा, मुखरबिंद मानसी गंगा, सहित मथुरा, गोकुल, बरसाना और गोवर्धन के मंदिरों के बाहर बिकने वाले दूध और प्रसाद के सैम्पल भरे थे. इस छापे की कार्रवाई के दौरान पुलिस भी मौजूद थी.

हाल ही में उक्त सैम्पलों की जांच रिपोर्ट आई है. जांच में सामने आया है कि मंदिरों के बाहर लगी दुकानों से भरे गए दूध और प्रसाद के सैम्पल मानकों पर खरे नहीं पाए गए हैं. दूध में पानी की मिलावट पाई गई है. वहीं जिस दूध से प्रसाद बनाया गया है वो दूध भी मिलावटी था.

मथुरा के खाद्य विभाग के अधिकारी चंदनलाल पाण्डे ने बताया कि दूध में पानी की मात्रा ज्यादा पाई गई है. साथ ही प्रसाद भी मानकों पर खरा नहीं उतरा है. गौरतलब रहे कि मथुरा के मंदिरों में रोजाना करीब 12 से 15 हजार लीटर दूध चढ़ाया जाता है. महीने में एक दिन आने वाली पूर्णमासी और दूसरे तीज-त्योहरों पर ये दूध की ये मात्रा दो से तीन गुनी हो जाती है.



ये भी पढ़ें- 

उत्तराखण्ड में होने वाली इस शादी के लिए बुक कराए गए हैं 200 हेलीकॉप्टर

UP: ट्रेन के जनरल कोच की भीड़ में फंसकर युवती की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मथुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 8, 2019, 2:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर