अपना शहर चुनें

States

Alert: कुछ दिन के लिए बहुत ज़्यादा जरूरी होने पर ही जाएं नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर

ग्रेटर नोएडा और नोएडा में अंडरपास में लगने वाले जाम से छुटकारा दिलाने के लिए अंडरपास का निर्माण कराया जा रहा है.
ग्रेटर नोएडा और नोएडा में अंडरपास में लगने वाले जाम से छुटकारा दिलाने के लिए अंडरपास का निर्माण कराया जा रहा है.

जानकारों की मानें तो नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे (Greater Noida Expressway) पर करीब 140 करोड़ की लागत से तीन अंडरपास (Underpass) का काम शुरु होने जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 2, 2021, 6:41 PM IST
  • Share this:
नोएडा. अगर आप अक्सर किसी न किसी काम से नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे (Greater Noida Expressway) पर आते-जाते रहते हैं तो यह खबर आपके लिए हैं. अगर हो सके तो कुछ दिन के लिए अब ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर जाने से बचें. ऐसा न करने पर आप जाम में भी फंस सकते हैं. हालंकि जाम न लगे इसके लिए नोएडा ट्रैफिक पुलिस (Noida Traffic Police) और नोएडा अथॉरिटी दोनों मिलकर काम कर रहे हैं. गौरतलब रहे जल्द ही नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर तीन अंडरपास (Underpass) का काम शुरु होने जा रहा है. इसके चलते सड़क की मोटी परत को उखाड़कर यह काम चलेगा.

चंद दिनों बाद अंडरपास का काम शुरु हो सकता है. अंडरपास बनने से आसपास के सेक्टरों, गांवों व मेट्रो के यात्रियों को इसका बड़ा फायदा मिलेगा. योजना के मुताबिक ,सेक्टर-142 एडवंट के पास, झट्टा और कोंडली बांगर के पास अंडरपास का काम शुरु होने जा रहा है. अभी तक एक ओर से दूसरी तरफ जाने के लिए या तो लंबा चक्कर लगाना होता था या फिर जो अंडरपास पहले से बने हैं उनका इस्तेमाल करना होता था, लेकिन यहां ज़्यादातर लंबा जाम लगा रहता था.

काम के दौरान ऐसे चलेगा ट्रैफिक



अथॉरिटी अधिकारियों के मुताबिक अंडरपास का काम चलने के दौरान 14 मीटर चौड़ी सड़क में से 7 मीटर पर काम चलेगा. जिस हिस्से में काम चलेगा वहां ट्रैफिक निकलने के लिए 7 मीटर चौड़ी सड़क खोली जाएगी. काम की शुरुआत एक लेन से होगी. एक लेन का काम पूरा हो जाने के बाद दूसरी लेन पर काम शुरु होगा. लेकिन किसी भी हालत में दोनों ही लेन पर एक साथ काम नहीं किया जाएगा.


Helicopter Service: नोएडा से 2 एयरपोर्ट और 36 शहरों को उड़ान भरेंगे Bell-MI हेलीकॉप्टर

सबसे पहले यहां शुरु होगा अंडरपास का काम

जानकारों के मुताबिक सेक्टर-142 में एडवंट इमारत के पास का अंडरपास का काम सबसे पहले शुरु होगा. यहां अंडरपास की लागत करीब 47 करोड़ आएगी. यह चार लेन का होगा. इसकी लंबाई करीब 60 मीटर होगी. इसके दोनों ओर अप्रोच रोड भी होगी, जो करीब 300 मीटर की होगी. यह सेक्टर-142 को सेक्टर-168 से जोड़ने का काम करेगा. इसका फायदा पास में ही बने मेट्रो लाइन मेट्रो स्टेशन पर आने वाले यात्रियों को भी मिलेगा.

दूसरी ओर कोंडली बांगर के पास के अंडरपास की लागत करीब 45 करोड़ होगी. अंडरपास चार लेन का होगा. इससे सेक्टर-148 के लोगों को फायदा मिलेगा. साथ ही आसपास के गांव और मेट्रो स्टेशन पर आने-जाने वाले भी इसका फायदा उठा सकेंगे. तीसरे झट्टा अंडरपास की लागत 46 करोड़ रुपये होगी. यह भी चार लेन का होगा. यह सेक्टर-146 को सेक्टर-159 से जोड़ने का काम करेगा. इसके आसपास के सेक्टर-156 से 162 तक के लोगों को इसका फायदा मिलेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज