Home /News /uttar-pradesh /

पति गैरमर्दों से हमबिस्तर होने का बनाता था दबाव, इनकार करने पर दिया तलाक!

पति गैरमर्दों से हमबिस्तर होने का बनाता था दबाव, इनकार करने पर दिया तलाक!

पति ने दिया तीन तलाक
(file photo)

पति ने दिया तीन तलाक (file photo)

पीड़िता ने केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी से मदद की गुहार लगाई है.

    कुरान और हदीस की आड़ में 3 तलाक, हलाला और बहुविवाह का जमकर फायदा उठाया जा रहा है. ताजा मामला यूपी के बरेली से है जहां वेश्यावृत्ति करने से मना करने पर पति ने पत्नी को 3 तलाक़ दे दिया. पत्नी ने अब केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन से मदद की गुहार लगाई है.

    केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फ़रहत नक़वी के पास मदद की गुहार लगाने पहुंचीं रफत का आरोप है कि उसके पति ने उसे इस वजह से तलाक़ दे दिया क्योंकि उसने वेश्यावृत्ति करने से मना कर दिया था. रफत ने बताया कि उसका पति घर में गैर मर्दों को लेकर आता था और उनके साथ हमबिस्तर होने का दबाव बनाता था जब वो इनकार करती थी तो उसे मारता पीटता था.

    किला इलाके की रहने वाली रफत की शादी प्रेमनगर के शाहाबाद के रहने वाले मुमताज के साथ एक मई 2017 को हुई थी. रफत का आरोप है कि उसके शौहर ने पहले से ही तीन शादियां कर रखी है. लेकिन शौहर उनके साथ मारपीट करता था इस लिए सभी उसे छोड़ चली गई. 22 जुलाई को रफत को उसके पति ने मारपीट कर घर से निकाल दिया. रफत का कहना है कि 29 जुलाई को उसका पति घर आया और उसके साथ मारपीट की. मारपीट करने के बाद 3 बार तलाक़ बोल दिया.

    रफत ने 'मेरा हक' फाउंडेशन की अध्यक्ष फरहत नकवी से मदद की गुहार लगाई है. फरहत नकवी का कहना है कि पीड़ित महिला अपनी समस्या लेकर आई है. शौहर उससे वेश्यावृत्ति कराना चाहता था मना करने पर उसे तलाक दे दिया. फ़रहत नक़वी का कहना है रफत की हरसम्भव मदद की जाएगी. मेरा हक़ फाउंडेशन कानूनी लड़ाई लड़ेगा.

    इसे भी पढ़ें-
    काबुल: एक भारतीय समेत तीन विदेशी नागरिकों की अगवा करके हत्या
    किसी विदेशी नेता को नहीं बुलाएंगे इमरान खान, सामान्य तरीके से लेंगे शपथ

    आपके शहर से (बरेली)

    बरेली
    बरेली

    Tags: Triple talaq

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर