कौशांबी: चाय की दुकान पर घुसा तेज रफ्तार नियंत्रित ट्रक, हादसे में तीन लोगों की मौत

कौशांबी में तेज रफ्तार ट्रक ने एक चाय की दुकान को रौंद दिया, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई.
कौशांबी में तेज रफ्तार ट्रक ने एक चाय की दुकान को रौंद दिया, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई.

कौशांबी (Kaushambi) में तेज रफ्तार अनियंत्रित ट्रक (Truck) चाय की दुकान को रौंदता हुआ सड़क के किनारे पलट गया. इस हादसे में तीन लोगों की मौके पर मौत (Death) हो गई, जिसके बाद ग्रामीणों ने नेशनल हाइवे- 2 (National highway-2) को जाम कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 8:12 PM IST
  • Share this:
कौशांबी. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कौशांबी (Kaushambi) जनपद के सैनी कोतवाली अंतर्गत कनवार मोड़ पर तेज रफ्तार अनियंत्रित ट्रक (Track) चाय की दुकान में जा घुसा और पलट गया. इस हादसे में दुकानदार समेत तीन लोगों की मौत (Death) हो गई है. हादसे के वक्त आसपास मौजूद लोगों ने भागकर किसी तरह से अपनी जान बचाई.

घटना की सूचना पर इलाके की पुलिस (Police) मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर जिला अस्पताल (Hospital) भेज दिया. हादसे की सूचना मृतक के परिजन और ग्रामीण मौके पर पहुंचे. ग्रामीणों ने मृतक के परिजनों को मुआवजा देने की मांग को लेकर नेशनल हाइवे दो को जाम कर दिया. इसके बाद हाईवे पर लंबा जाम लग गया. वहीं मौके पर पहुंचे पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने मुआवजा देने का आश्वासन दिया, जिसके बाद ग्रामीणों ने सड़क को खाली किया.

सैनी कोतवाली के अझुवा पुलिस चौकी क्षेत्र के केन गांव निवासी धर्मपाल ने कनवार मोड़ पर नेशनल हाईवे दो के किनारे चाय की दुकान खोल रखी है. मंगलवार की शाम वह अपनी दुकान पर गांव के ही हरिश्चंद्र के साथ बैठा था. उस समय अज्ञात साइकिल सवार भी दुकान के सामने खड़ा था. तभी कानपुर की ओर से एक तेज रफ्तार आ रहा ट्रक अचानक चाय की दुकान को रौंदते हुए आगे बढ़ा और पलट गया.



बाराबंकी: ट्रक में पीछे से घुसी तेज रफ्तार कार, नेपाली नागरिक समेत 4 की मौत
ट्रक की चपेट में आने से चाय की दुकान पर बैठे धर्मपाल, हरिशचंद और साइकिल सवार की मौके पर ही मौत हो गई. हादसा होता देख आसपास के लोग दौड़कर घटनास्थल पर पहुंचे, तब तक ट्रक चालक मौके से फरार हो चुका था. हादसे की जानकारी अझुवा पुलिस चौकी को हुई तो वह मौके पर पहुंची. तीनों शवों को पुलिस ने कब्जे में लेकर जिला अस्पताल भेज दिया है.

हादसे की सूचना मृतक के परिजनों को हुई तो वह भी मौके पर पहुंचे. इसके बाद सैकड़ों की संख्या में जुटे ग्रामीणों ने मृतक के परिजनों को मुआवजे की मांग को लेकर नेशनल हाईवे दो को जाम कर दिया. हाथों में लाठी व डंडा लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क पर जाम लगाया तो पुलिस के हाथ पांव फूल गए. इस घटना की सूचना आला अधिकारियों को दी गई, जिसके बाद उप जिला अधिकारी सिराथू राजेश कुमार श्रीवास्तव और क्षेत्राधिकारी सिराथू रामवीर सिंह कई थाने के पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को शांत कराया. प्रशासनिक अधिकारियों ने जब पीड़ित परिवार को मुआवता देने का आश्वासन दिया तभी ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे को खाली किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज