Home /News /uttar-pradesh /

ग्रेटर नोएडा वेस्ट से कालिंदी कुंज तक अब बिना रुके भरें फर्राटा, जानिए कैसे

ग्रेटर नोएडा वेस्ट से कालिंदी कुंज तक अब बिना रुके भरें फर्राटा, जानिए कैसे

नोएडा अथॉरिटी के अफसरों का कहना है कि सेक्टर 71 के अंडरपास को ट्रॉयल के तौर पर जनता के लिए खोल दिया है. File Photo

नोएडा अथॉरिटी के अफसरों का कहना है कि सेक्टर 71 के अंडरपास को ट्रॉयल के तौर पर जनता के लिए खोल दिया है. File Photo

नोएडा के अलावा ग्रेटर नोएडा, दिल्ली (Delhi), गाजियाबाद (Ghaziabad), हरियाणा और राजस्थान के बीच आवाजाही करने वाले हजारों वाहन रोजाना इसी चौराहे का इस्तेमाल करते हैं. साथ ही ग्रेनो वेस्ट और ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) को भी यह चौराहा नोएडा (Noida) से जोड़ता है. अंडरपास निर्माण के दौरान भंगेल और सेक्टर-76 की ओर से सेक्टर-60-61 की ओर जाने वाले वाहन चौराहे से बायीं ओर मुड़कर (होशियारपुर की ओर) यू-टर्न ले रहे थे.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के एक लम्बे इंतजार के बाद नोएडा का सेक्टर-71 अंडरपास (Sector-71 Underpass) जनता के लिए खोल दिया गया है. हालांकि यह अभी 15 दिन का ट्रॉयल रन है. लेकिन नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) की टेक्निकल टीम अंडरपास को हरी झंडी दे चुकी है. नोएडा को ग्रेटर नोएडा वेस्ट से जोड़ने वाला यह अंडरपास सिग्नल फ्री है. ग्रेनो वेस्ट से आने पर सिटी सेंटर के बाद कालिंदी कुंज तक भी वाहन फर्राटा भर सकेंगे. यमुना पर नया फ्लाई ओवर बनने के बाद अब यहां भी जाम की परेशानी खत्म हो गई है. सिटी सेंटर से लेकर कालिंदी कुंज (Kalindi Kunj) तक कोई सिग्नल भी नहीं है.

    सिग्नल फ्री हो जाएगा सेक्टर-71 चौक

    जानकारों की मानें तो मेट्रो लाइन शुरु होने के बाद नोएडा के सेक्टर-71 चौक पर यात्रियों की संख्या बढ़ गई है. मेट्रो से उतरने वाले भी सेक्टर-53, 61,71,72,73,119,120,121,122, पर्थला, सर्फाबाद, ग्रेटर नोएडा वेस्ट, गौड़ सिटी, छिजारसी, शाहबेरी, क्रॉसिंग रिपब्लिक, बिसरख और सूरजपुर की ओर जाने वाले छोटे-बड़े किसी न किसी वाहन का इस्तेमाल करते हैं. इसके चलते भी ट्रैफिक बढ़ गया है. अंडरपास का निर्माण सिटी सेंटर और ग्रेनो वेस्ट को जोड़ने वाली सड़क पर किया गया है. इसके बनने से सिटी सेंटर से ग्रेनो वेस्ट के बीच अंडरपास से और एनएच-24 से भंगेल के बीच अंडरपास के ऊपर से बेरोकटोक सफर किया जा सकेगा. अंडरपास की लंबाई करीब 680 मीटर है, जिसकी तीन लेन आने के लिए और तीन लेन जाने के लिए हैं.

    18 सेक्टर और गांव को अंडरपास ऐसे होगा दोहरा फायदा

    सेक्टर-18 मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील जैन की मानें तो इस अंडरपास के शुरु हो जाने से वेव सिटी सेंटर मेट्रो स्टेशन से ग्रेटर नोएडा वेस्ट तक ट्रैफिक आरामदायक हो जाएगा. खासतौर पर सेक्टर 51, 52, 61, 7X सेक्टर और ग्रेटर नोएडा वेस्ट के नौकरीपेशा और कारेबारियों को इसका बहुत फायदा मिलेगा. वहीं वेव मेट्रो से उतरने के बाद सेक्टर-53, 61,71,72,73,119,120,121,122, पर्थला, सरफाबाद, ग्रेटर नोएडा वेस्ट, गौड़ सिटी, छिजारसी, शाहबेरी, क्रॉसिंग रिपब्लिक, बिसरख और सूरजपुर की ओर जाने वालों का काफी वक्त बचेगा. अंडरपास के शुरु होते एनएच-24 से भंगेल के बीच अंडरपास के ऊपर से होते हुए सफर आसान हो जाएगा.

    नोएडा-ग्रेटर नोएडा में 450 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी होगी नीलाम, 37 बिल्डर्स से की है जब्त

    नोएडा सेक्टर 71 का यह अंडरपास देरी के चलते इसी साल पहले 15 अगस्त तो फिर 15 सितम्बर को जनता के लिए खोला जाना था. लेकिन कुछ तकनीकि काम के चलते इसे रोक दिया गया. लेकिन अब नोएडा अथॉरिटी ने अंडरपास को हरी झंडी दे दी है.

    इसलिए भी खास है सेक्टर-71 अंडरपास

    नोएडा-ग्रेटर नोएडा इस सेक्टर-71 के अंडरपास की अहमियत को कुछ इस तरह से समझा जा सकता है कि इस रोड से आने वाले सेक्टर 50-7x, 100 और एक्सप्रेसवे के निवासी इस अंडरपास के खुलने का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे, क्योंकि नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट जाने पर ट्रैफिक जाम रोजमर्रा की परेशानी बन चुका है. सेक्टर-71 यू-टर्न पर ऑटो चालकों के हंगामे और गलत साइड वाहन की आवाजाही से बचने के लिए निवासी केंद्रीय विहार और मेघदूतम से होते हुए शॉपप्रिक्स सेक्टर -61 से सेक्टर -51 तक का रास्ता अपनाना पड़ता है.

    Tags: Delhi-ncr, Greater noida news, Noida Authority

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर