उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हादसे पर गरमाई सियासत, अखिलेश जाएंगे ट्रामा सेंटर तो प्रियंका-माया ने उठाए सवाल

सोनभद्र कांड में पिछड़ने के बाद अखिलेश इस मामले में लीड लेते नजर आए. रविवार शाम ही एमएलसी उदयवीर सिंह, सुनील सिंह साजन और आनंद भदौरिया के नेतृत्व में सपा का एक प्रतिनिधिमंडल लखनऊ के ट्रामा सेंटर में घायल रेप पीड़िता से मुलाकात करने पहुंचा.

Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 12:05 PM IST
उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हादसे पर गरमाई सियासत, अखिलेश जाएंगे ट्रामा सेंटर तो प्रियंका-माया ने उठाए सवाल
उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए हादसे पर अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी ने सवाल खड़े किए
Amit Tiwari
Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: July 29, 2019, 12:05 PM IST
लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद मुद्दों की तलाश में बैठ विपक्ष को सोनभद्र नरसंहार के बाद एक और मुद्दा मिल गया है. रविवार दोपहर रायबरेली हाईवे पर उन्नाव रेप पीड़िता के कार की एक्सीडेंट पर सियासत गरमा गई है. इस हादसे पर साजिश की अश्नाका जताते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने सवाल खड़े किये हैं.

सोनभद्र कांड में पिछड़ने के बाद अखिलेश इस मामले में लीड लेते नजर आए. रविवार शाम ही एमएलसी उदयवीर सिंह, सुनील सिंह साजन और आनंद भदौरिया के नेतृत्व में सपा का एक प्रतिनिधिमंडल लखनऊ के ट्रामा सेंटर में घायल रेप पीड़िता से मुलाकात करने पहुंचा. मुलाकात के बाद एमएलसी सुनील सिंह साजन ने कहा कि पार्टी पीड़िता के साथ है. पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए पार्टी इस मुद्दे को जोश-शोर से उठाएगी.

अखिलेश यादव ने की सीबीआई जांच की मांग

इसके बाद अखिलेश यादव ने भी हत्या की आशंका जताई. उन्होंने कहा कि उन्नाव रेप पीड़िता के साथ रायबरेली जाते समय जो हादसा हुआ है, वो गम्भीर घटना है. इसके पीछे उसकी हत्या की आशंका भी हो सकती है. अखिलेश यादव ने रेप पीड़िता के साथ घटी इस घटना की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है. उन्होंने कहा कि सीबीआई की जांच से ही इस हादसे से पर्दा उठ सकेगा. साथ ही अखिलेश यादव पीड़िता से मिलने ट्रामा सेंटर भी जाएंगे.

SP chief akhilesh yadav
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव


प्रियंका ने सरकार से पूछे छार सवाल

उधर मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट कर योगी सरकार के मंसूबों पर सवाल खड़े किए. उन्होंने लिखा उन्नाव बलात्कार पीड़िता के साथ सड़क दुर्घटना का हादसा चौंकाने वाला है. इस केस में चल रही CBI जांच कहां तक पहुंची? आरोपी विधायक अभी तक भाजपा में क्यों हैं? पीड़िता और गवाहों की सुरक्षा में ढिलाई क्यों?
Loading...

मायावती ने बताया हत्या की साजिश

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी ट्वीट कर कहा, "उन्नाव रेप पीड़िता के कार की रायबरेली में कल ट्रक से टक्कर प्रथम दृष्टया उसे जान से मारने का षडयंत्र लगता है, जिसमें उसकी चाची व मौसी की मौत हो गई तथा वह स्वंय व उसके वकील गंभीर रूप से घायल हैं. मा. सुप्रीम कोर्ट को इसका संझान लेकर दोषियों पर सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करनी चाहिए."

BSP Supremo mayawati
बसपा सुप्रीमो मायावती की फाइल फोटो


दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वति मालीवाल ने भी बताया हत्या की साजिश

उधर लखनऊ उन्नाव रेप कांड पीड़िता से दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी मुलाक़ात की. मुलाक़ात के बाद स्वाति मालीवाल ने कहा कि एक्सीडेंट उन्नाव रेप कांड पीड़िता को मरवाने के लिए कराया गया. इस मामले की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में जांच होनी चाहिए. 15 दिन के भीतर कोर्ट उन्नाव रेप कांड मामले में फैसला सुनाए. उन्होंने कहा उन्नाव रेप कांड पीड़ित की हालत बेहद नाज़ुक है. पीड़िता को एयरलिफ्ट कर दिल्ली में इलाज कराने की जरूरत है.

DGP बोले- सीबीआई जांच को तैयार

डीजीपी ने कहा कि रेप पीड़िता फ़िलहाल खतरे से बाहर है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पूरे मामले को गंभीरता से लिया है. अगर पीड़िता का परिवार सीबीआई जांच की मांग करता है तो हम तैयार हैं. सरकार पूरे मामले में निष्पक्ष जांच करा रही है.

ये भी पढ़ें--

उन्नाव रेप कांड: एक्सीडेंट को वकील ने बताया संदिग्ध, बोले- पीड़िता के साथ नहीं थे सुरक्षाकर्मी

उन्नाव रेप कांड: ट्रक-कार की भिड़ंत में चाची और मौसी की मौत, पीड़िता की हालत गंभीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उन्नाव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 11:20 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...