उन्नाव: गैंगरेप पीड़िता के विरोध के बाद BJP ने अरुण सिंह का टिकट काटा, शकुन सिंह बनीं दावेदार

उन्नाव में बीजेपी ने कुछ घंटे में ही जिला पंचायत अध्यक्ष के टिकट में फेरबदल करते हुए शकुन सिंह को प्रत्याशी घोषित किया है. (File Photo: शकुन सिंह)

Unnao News: उन्नाव में बीजेपी ने अरुण सिंह की जगह शकुन सिंह को जिला पंचायत अध्यक्ष का प्रत्याशी घोषित किया है. शकुन सिंह पूर्व एमएलसी स्वर्गीय अजीत सिंह की पत्नी हैं.

  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unao) में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में बीजेपी (BJP) को भारी असमंजस के दौर से गुजरना पड़ा. दरअसल बीजेपी ने यहां अरुण सिंह (Arun Singh) को जिला पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी (Candidate) घोषित किया था. लेकिन 12 घंटे में ही बीजेपी नेतृत्व को अपना फैसला बदलना पड़ा. अब अरुण सिंह की जगह शकुन सिंह (Shakun Singh) को बीजेपी ने प्रत्याशी घोषित किया है. बता दें शकुन सिंह वार्ड नम्बर 22 से जिला पंचायत सदस्य हैं. शकुन सिंह पूर्व एमएलसी स्वर्गीय अजीत सिंह की पत्नी हैं.

दरअसल उन्नाव में अनारक्षित जिला पंचायत अध्यक्ष सीट पर बीजेपी प्रत्याशी कौन होगा? इसको लेकर कई दिनों से राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे थे. बुधवार देर रात बीजेपी ने पूर्व ब्लॉक प्रमुख व औरास वार्ड नंबर 12 से जिला पंचायत सदस्य चुने गए अरुण सिंह को पार्टी समर्थित प्रत्याशी घोषित कर दिया.

गैंगरेप पीड़िता ने उठाए थे सवाल



अरुण सिंह के नाम के ऐलान के बाद ही उन्नाव में गैंगरेप पीड़िता ने एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर कर बीजेपी पर गंभीर आरोप लगा दिए. पीड़िता ने सीधे सवाल पूछ लिया कि बीजेपी सरकर बताए वह उसके साथ है या कुलदीप सिंह सेंगर के? पीड़िता ने कहा कि जिन लोगों ने उसके पूरे परिवार को बर्बाद कर दिया, उन्हें बीजेपी टिकट कैसे दे सकती है?

काम नहीं आई सफाई

पीड़िता के आरोप के बाद बीजेपी जिला अध्यक्ष राजकिशोर रावत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी देते हुए सफाई भी दी. उन्होंने कहा कि पार्टी ने कार्यकर्ताओं से राय लेकर अरुण सिंह को प्रत्याशी बनाया है. कल रात में पार्टी ने अरुण सिंह को प्रत्याशी घोषित किया है. दोषी कुलदीप सिंह सेंगर मामले में अरुण सिंह पर आरोप होने पर जिलाध्यक्ष ने क्लीन चिट दे दी है. अध्यक्ष ने कहा कि हमारा प्रत्याशी साफ सुथरा है, ऐसा कुछ नहीं है.

ये भी पढ़ेंं: जानिए क्यों उन्नाव गैंगरेप पीड़िता ने Video जारी कर पूछा- BJP सरकार मेरे साथ है या कुलदीप सेंगर के?

वहीं अरुण सिंह ने कहा कि मेरे ऊपर जो आरोप लगे उसपर सीबीआई ने क्लीन चिट दी है. पीड़िता मेरी बहन की तरह है. मेरी संवेदनाएं उसके साथ, आजीवन रहेंगी. मेरे ऊपर लोग मन गढ़ंत आरोप लगा रहे हैं. मै किसी रेप केस, हत्या में आरोपी नहीं हूं. पीड़िता का जिस दिन एक्सीडेंट हुआ था, मैं उस दिन अमरनाथ की यात्रा पर था. लेकिन अब पार्टी नेतृत्व ने अरुण सिंह का टिकट रद्द कर शकुन सिंह को प्रत्याशी घोषित कर दिया है.

बीजेपी जिलाध्यक्ष का पत्र

unnao ticket, BJP Letter, unnao, Jila Panchayat adhyaksh chunav, BJP Candidatye shakun Singh
उन्नाव में बीजेपी ने कुछ घंटे में ही जिला पंचायत अध्यक्ष के टिकट में फेरबदल करते हुए शकुन सिंह को प्रत्याशी घोषित किया है. (File Photo: शकुन सिंह)


कौन हैं अरुण सिंह

उन्नाव में 2016 में सपा सरकार में सपा समर्थन पर नवाबगंज ब्लॉक से अरुण सिंह ब्लॉक प्रमुख चुने गए थे और व्यापारी से नेता बनने का सफ़र शुरू किया. 2017 में बीजेपी की सरकार बनते ही अरुण सिंह ने सांसद साक्षी महाराज का साथ पकड़ा और विवादों के बीच बीजेपी में आ गए. 2018 में बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर एक पीड़िता ने रेप का आरोप लगाया, जिसमें कुलदीप का सहयोग करने को लेकर अरुण सिंह पर भी रेप पीड़िता ने गंभीर आरोप लगाए थे और सीबीआई ने पूछताछ भी की. कुलदीप को सीबीआई ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

जुलाई 2019 में रेप पीड़िता की कार का रायबरेली में ट्रक से भिड़ंत हो गई. जिसमें पीड़िता की मौसी व एक अन्य की मौत हो गई थी और पीड़िता को गंभीर चोटें आई थी. मामले ने तूल पकड़ा और पीड़िता ने कुलदीप सिंह सेंगर पर हत्या कराए जाने का आरोप लगाया. तहरीर में कुलदीप के अलावा उनके भाई अतुल सेंगर, अरुण सिंह समेत 10 के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.