UP Panchayat Chunav 2021: कुलदीप सेंगर की बीवी का टिकट काट BJP ने पूर्व MLC की पत्नी का ऐन वक्त पर करवाया नामांकन

उन्नाव पंचायत चुनाव में बीजेपी ने वार्ड नंबर-22 फतेहपुर चौरासी तृतीय सीट से पूर्व एमएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन को समर्थन दिया है.

उन्नाव पंचायत चुनाव में बीजेपी ने वार्ड नंबर-22 फतेहपुर चौरासी तृतीय सीट से पूर्व एमएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन को समर्थन दिया है.

Unnao Panchayat Electon: उन्नाव पंचायत चुनाव में गुरुवार को नामांकन के आखिरी दिन बीजेपी ने पूर्व एमएलसी स्वर्गीय अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह को समर्थन दे दिया है.

  • Share this:
उन्नाव. उत्तर प्रदेश के उन्नाव में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में नामांकन (Nomination) प्रक्रिया गुरुवार को समाप्त हो गई. बता दें कि यहां उन्नाव जिला पंचायत अध्यक्ष पद की सीट ‘हॉट’ बनी हुई है. दरअसल, वार्ड नंबर-22 (फतेहपुर चौरासी तृतीय) सीट से कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Senger) की पत्नी और निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष संगीता सेंगर का बीजेपी (BJP) ने समर्थन रद्द कर दिया था. अब इसी सीट पर पार्टी ने क्षत्रिय प्रत्याशी के तौर पर दिवंगत एमएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह (Shakun Singh) को प्रत्याशी घोषित किया है. शकुन सिंह ने नामांकन पर्चा दाखिल कर अपनी दावेदारी पेश कर दी है. शकुन की एंट्री से जिले की राजनीतिक सियासत गरम हो गई है.

नामांकन के दौरान प्रत्याशी के साथ काफी संख्या में समर्थक पहुंचे, जिन्हें कलेक्ट्रेट से दूर रोका गया. वहीं, नामांकन स्थलों पर भारी संख्या में फोर्स तैनात रहा. उन्नाव में तीसरे चरण में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की रणभेरी बज चुकी है. उन्नाव में 26 अप्रैल को मतदान होगा. उन्नाव में 1040 ग्राम प्रधान, 1319 क्षेत्र पंचायत और 51 जिला पंचायत सदस्य पद के साथ ही 12902 ग्राम पंचायत सदस्य पद पर नामांकन प्रक्रिया 15 अप्रैल को समाप्त हो गई.

Youtube Video


...जब संगीता का कटा टिकट
बता दें कि 7 अप्रैल को बीजेपी समर्थित प्रत्याशी की जारी सूची में जेल में बंद पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष को वार्ड नंबर 22 फतेहपुर चौरासी तृतीय सीट से बीजेपी ने समर्थन देकर प्रत्यशी घोषित किया था. इसके बाद विपक्ष व रेप पीड़िता ने बीजेपी की छवि पर सवाल खड़े कर संगीता सेंगर के बीजेपी समर्थित प्रत्याशी पर हमला बोल दिया. राजनीतिक सरगर्मी बढ़ता देख 11 अप्रैल को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बयान जारी कर संगीता सेंगर का समर्थन रद्द कर दिया.

फतेहपुर चौरासी तृतीय सीट भी रिक्त हो गई. काफी उठापटक के बीच नामांकन के आखिरी दिन 15 अप्रैल की शाम करीब 4 बजे पूर्व बीजेपी एमएलसी अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह पर बीजेपी ने आखिरी समय पर दांव लगाया और पार्टी समर्थित प्रत्याशी घोषित किया. शकुन सिंह ने अपने बेटे बीजेपी नेता शशांक शेखर सिंह के साथ नामांकन कराया है.

बीजेपी से चुनावी मुकाबला



पूर्व एमएलसी की पत्नी शकुन सिंह इससे पहले भगवंतनगर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ चुकी हैं. वहीं 2017 में अजीत सिंह के पुत्र शशांक शेखर सिंह ने सपा/बीएसपी के गठबंधन में बीएसपी प्रत्याशी के तौर पर भगवंतनगर विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में थे और बीजेपी प्रत्याशी मौजूदा यूपी विधानसभा अध्यक्ष ह्रदय नारायण दीक्षित ने चुनाव जीता था. शशांक शेखर सिंह दूसरे नंबर पर रहे थे.

शकुन सिंह बोलीं- जनता का विश्‍वास हमारे साथ

बीजेपी समर्थित प्रत्याशी शकुन सिंह ने नामांकन कराने के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि पार्टी ने समर्थन दिया है. जनता का विश्वास हमारे साथ है, जनता चुनाव जरूर जिताएगी. स्वर्गीय एमएलसी अजीत सिंह के पुत्र शशांक शेखर सिंह ने कहा कि पार्टी ने समर्थन दिया है, इसका आभार है. अपने पिता (अजीत सिंह) के पदचिन्हों पर चल रहा हूं. जनता की मदद के लिए हर समय तत्पर हूं और तत्पर रहूंगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज