अपना शहर चुनें

States

सुभाष चंद्र बोस पर दिए बयान से पलटे BJP सांसद साक्षी महाराज, कांग्रेस पर नेताजी की हत्या का लगाया था आरोप

भाजपा सांसद साक्षी महाराज. (फाइल फोटो)
भाजपा सांसद साक्षी महाराज. (फाइल फोटो)

नेता सुभाष चंद्र बोस (Subhash Chandra Bose) की 125 वीं जयंती के मौके पर औरास उटरा डकौली गांव में आयोजित कार्यक्रम में सांसद साक्षी महाराज (Sakshi Maharaj) ने अपने संबोधन में मंच से कांग्रेस (Congress) पर बड़ा आरोप लगाया. सांसद ने दो टूक कहा कि नेता जी की हत्या कांग्रेस ने करवाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 1:59 PM IST
  • Share this:
उन्नाव. बीजेपी सांसद ने बीते शनिवार को एक कार्यक्रम में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की हत्या कराने का आरोप लगाया था. ऐसे में उनका यह बयान मीडिया में सुर्खियों में तब्दील हो गया, जिसके बाद अब सांसद बैकफुट पर नजर आए. एक सवाल के जवाब पर सांसद ने खुद के द्वारा कांग्रेस पर लगाए आरोप को निजी बताया है, इसे पार्टी से न जोड़ें जाने की बात भी कही. यही नहीं सासंद ने कहा कि हो सकता है कि उनका बयान मिथ्या भी हो, लेकिन नेता जी की मौत की जांच तो होनी ही चाहिए थी.

उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज विवादित बयानबाजी को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहते हैं. अभी 4 दिन पहले ओवैसी को सूअर कहने पर चर्चा में थे. जिस पर काफी किरकिरी भी हुई. जिसके बाद शनिवार को नेता जी की 125 वीं जयंती के मौके पर औरास उटरा डकौली गांव में आयोजित कार्यक्रम में सांसद साक्षी महाराज ने अपने संबोधन में मंच से कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाया. सांसद ने दो टूक कहा कि नेता जी की हत्या कांग्रेस ने करवाई है. सुभाष चंद्र बोस को समय से पहले मौत के गाल में भेज दिया था. उनकी लोकप्रियता के आगे पंडित नेहरू कहीं ठहरते नहीं थे और न ही महात्मा गांधी भी कहीं ठहरते थे.

जब सासंद से जब नेता जी की हत्या का आरोप कांग्रेस पर लगाए जाने वाले बयान पर रिएक्शन लिया गया तब कुछ समय के लिए साक्षी महाराज अटक से गए. उन्होंने कहा कि देश को आजादी दिलाने मे बहुत बड़ी भूमिका सुभाष चन्द्र बोस की थी. उनका नारा था तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आज़ादी दूंगा. शनिवार को उनकी 125वीं जयंती थी. मैंने प्रयास किया सुभाष चन्द्र बोस की मौत आज भी रहस्य बनी है, आखिकार क्यों? पंडित जवाहरलाल नेहरू ने कोई जांच क्यों नही बिठाई, कोई पर्दाफास क्यों नहीं हुआ. चाहे पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी की मौत हो या लालबहादुर शास्त्री की मौत हो या फिर नेता जी की मौत हो, इन मौतों से पर्दा उठना जरूरी है.



सांसद ने कहा कि सुभाष चन्द्र बोस की लोकप्रियता के आगे पंडित जवाहरलाल नेहरू कहीं नही टिकते थे. इसीलिए कयास लगाया जा सकता है. इसमे पार्टी का कोई लेना देना नहीं है. मैंने कयास लगाया है, हो सकता है मेरा कयास मिथ्या हो, लेकिन मेरा मानना यही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज