Home /News /uttar-pradesh /

एक विवाह ऐसा भी: 20 साल साथ गुजारने के बाद की शादी, बारात में शामिल हुआ दूल्हा-दुल्हन का 13 वर्ष का बेटा

एक विवाह ऐसा भी: 20 साल साथ गुजारने के बाद की शादी, बारात में शामिल हुआ दूल्हा-दुल्हन का 13 वर्ष का बेटा

 (प्रतीकात्मक तस्वीर)

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

UP News: उत्तर प्रदेश के उन्नाव में हुई इस शादी की पूरी तैयारी ग्राम प्रधान और ग्रामीणों ने की थी. यह विवाह की काफी चर्चा हो रही है.

उन्नाव. उत्तर प्रदेश के उन्नाव में हुई एक शादी इन दिनों चर्चा में है. जोड़े का 13 साल का बेटा भी बाराती बनकर अपने पिता की शादी में शामिल हुआ. दूल्हा 58 वर्ष और दुल्हन 50 वर्ष की थी. दूल्हे की बहन का दावा है की दोनों ने 20 साल पहले कोर्ट मैरिज की थी, लेकिन किन्हीं कारणों से शादी रीतिरिवाजों से नहीं हो पाई थी, लेकिन वे एक दूसरे के साथ रह रहे थे. अब परिवार की आपसी सहमति के बाद दोनों की पारंपरिक तरीके से शादी संपन्न कराई गई.

उन्नाव के मियागंज ब्लॉक में स्थित रसूलपुर रूरी गांव के रहने वाले नारायण रैदास ने अपनी प्रेमिका रामरती (जो मियागंज ब्लॉक के मिश्रापुर गांव के रहने वाली हैं) से शादी की है. बताया जा रहा है कि दोनों 20 वर्षों से लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे. दोनों का एक 13 साल का बेटा अजय भी है. बीते सोमवार को गाजे बाजे के साथ दोनों की धूमधाम से शादी हुई. बताया जा रहा है कि ग्राम प्रधान रमेश ने ग्रामीणों के साथ मिलकर शादी की पूरी तैयारियां करा कर बारात ले जाने का इंतज़ाम करवाया और गांव के बाहर स्थित ब्रम्ह देव बाबा के मंदिर में लगभग आधा दर्जन गाड़ियों के साथ वर-वधू को ले जाकर शादी की रस्‍में पूरी करवाई गईं. इसके बाद दोनों अपने घर जाकर एकदूसरे के साथ सात फेरे लिए.

ग्रामीणों ने की तैयारी
मिली जानकारी के मुताबिक इस बारात में पूरी तैयारियां ग्राम प्रधान ने ग्रामीणों के साथ मिलकर की. पूरी धूमधाम के साथ बारात की रस्‍में पूरीं करवाई गईं. बारात में आये डीजे पर ग्रामीण खूब थिरके. ग्राम प्रधान द्वारा करवाई गई यह शादी क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है. दूल्हा नारायण रैदास ने बताया कि ग्रामीणों की मदद से उनकी रिती-रिवाज से शादी हो पाई.

आपके शहर से (उन्नाव)

उन्नाव
उन्नाव

Tags: Unnao News, Uttar pradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर