अपना शहर चुनें

States

Unnao News: पंचायत चुनाव से पहले टॉयलेट की दीवार पर लिखा स्वतंत्रता सेनानी का नाम, जांच के आदेश

पंचायत चुनाव से पहले टॉयलेट की दीवार पर लिखा स्वतंत्रता सेनानी का नाम
पंचायत चुनाव से पहले टॉयलेट की दीवार पर लिखा स्वतंत्रता सेनानी का नाम

उन्नाव के बांगरमऊ तहसील में पंचायत चुनाव से पहले सनसनीखेज मामला आया सामने. जिले के डीएम ने दीवार से नाम हटवाने के बाद बीडीओ से मामले पर पूरी रिपोर्ट तलब की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 16, 2021, 1:52 PM IST
  • Share this:
उन्नाव. यूपी के उन्नाव (Unnao) जिले में एक नव निर्मित सामुदायिक शौचालय भवन की दीवार पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. सूरज प्रसाद मिश्रा का नाम लिखवा दिया. यूपी में होने वाले पंचायत चुनाव से पहले किसी ने सेनानी के परिवार का करीबी होने का दांव खेला है, जो अब उल्टा होते दिखाई पड़ रहा है. सेनानी के पुत्र ने सामुदायिक शौचालय की दीवार पर नाम लिखे जाने पर कड़ी आपत्ति जताते हुए मामले कि सीएम से शिकायत की है. वहीं मामला सुर्खियों में आने पर डीएम ने बीडीओ से तत्काल मामले की रिपोर्ट तलब की है और दीवार से स्वतंत्रता संग्राम सेनानी का नाम भी आनन फानन हटाया गया है. इस पूरे मामले में पंचायती राज विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है.

दरअसल, उन्नाव के बांगरमऊ तहसील की ग्राम पंचायत अरगूपुर में पंचायती राज विभाग की तरफ से स्वच्छ भारत मिशन के तहत सामुदायिक शौचालय भवन का निर्माण कराया गया है. शौचालय भवन की दीवार पर गांव के ही स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व . सूरज प्रसाद मिश्रा का नाम लिख दिया गया. जो बीते कुछ घंटों से सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. चर्चा है कि आगामी पंचायत चुनाव में राजनीतिक लाभ पाने के लिए पंचायती राज विभाग के अधिकारियों से मिलीभगत कर ऐसा किया गया है. ऐसे में पंचायतीराज विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है.

Ayodhya News: पीले खादी सिल्क की डिजाइनर ड्रेस पहनकर विराजमान हुए रामलला



फिलहाल मामला मीडिया में आने के बाद डीएम उन्नाव रविंद्र कुमार ने संज्ञान लेते हुए सामुदायिक शौचालय से स्वतंत्रता संग्राम सेनानी का नाम हटवा दिया है. वहीं पूरे मामले की जांच बीडीओ बांगरमऊ को देते हुए तत्काल पूरे मामले में रिपोर्ट मांगी है. जिससे विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के पुत्र वंश गोपाल मिश्रा ने भी इस पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की है. उन्होंने कहा है कि अगर रोड और स्मारक पिताजी के नाम पर बनता तो अच्छा लगता.

डीएम ने BDO से तलब की रिपोर्ट


इससे प्रदर्शित होता है कि अधिकारियों की भावना क्या है. इससे परिवार बुरी तरीके से आहत है. स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के घर को जाने वाला रास्ता बंद कर दिया गया है. तहसील प्रशासन ने कुछ भी नहीं किया है. डीएम रविंद्र कुमार ने कहा कि दीवार से नाम हटवा दिया गया है, बीडीओ से पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी गई है. उन्होंने कहा कि जिसकी भी लापरवाही होगी उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज