होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

UP: गंगा नदी खतरे के निशान के करीब, किनारे बसे गांवों, मोहल्लों की बढ़ीं धड़कनें

UP: गंगा नदी खतरे के निशान के करीब, किनारे बसे गांवों, मोहल्लों की बढ़ीं धड़कनें

UP: उन्नाव में गंगा नदी का पानी तेजी से बढ़ने से किनारे बसे लोगों को डर सताने लगा है.

UP: उन्नाव में गंगा नदी का पानी तेजी से बढ़ने से किनारे बसे लोगों को डर सताने लगा है.

Unnao News: उन्नाव में गंगा नदी का चेतावनी बिंदु 112 मीटर व खतरे का निशान 113 मीटर है. पिछले 24 घंटे में 100 सेंटीमीटर गंगा नदी के जलस्तर में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है.

उन्नाव. पहाड़ी क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश से उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unnao) में गंगा नदी (Ganga River) का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है. गंगा नदी में जलस्तर बढ़ने से नदी किनारे बसे मोहल्लों की मुश्किलें बढ़ गई हैं. उधर जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है. स्थिति ये है कि उन्नाव में गंगा चेतावनी बिंदु से डेढ़ मीटर दूर है. जैसे जैसे गंगा नदी का जलस्तर बढ़ रहा है, वैसे ही गंगा किनारे बसे गांवों, मोहल्लों के लोगों की धड़कने घट-बढ़ रही हैं. डीएम उन्नाव ने गंगा किनारे पर बसे कई मोहल्लों का निरीक्षण किया है. डीएम ने अधिकारियों को अलर्ट पर रखा है. साथ ही हर संभव प्रशासनिक मदद का आश्वासन दिया है.

उन्नाव में गंगा नदी का चेतावनी बिंदु 112 मीटर व खतरे का निशान 113 मीटर है.  पिछले 24 घंटे में 100 सेंटीमीटर गंगा नदी के जलस्तर में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है. गंगा में जलस्तर बढ़ने से गंगा कटरी के किनारे रहने वाले लोगों की धुकधुकी बढ़ गई है. गंगा घाट के मोहल्ला गोताखोर में गंगा का पानी घुस गया है. आज गंगा में जलस्तर बढ़ने पर डीएम उन्नाव रविंद्र कुमार ने एडीएम राकेश कुमार सिंह, एसडीएम सदर सत्यप्रिय सिंह व ईओ गंगा घाट के साथ रविदास नगर खंती, चंपा पुरवा, अहमद नगर समेत अन्य मोहल्लों का निरीक्षण किया.

डीएम ने गंगा कटान को देखा और राजस्व विभाग के अधिकारियों को अलर्ट पर रखा है. डीएम ने गंगा में जलस्तर बढ़ने पर बाढ़ चौकियों की स्थापना करा दी है. डीएम ने कहा जलस्तर बढ़ने पर आज निरीक्षण किया गया है. गंगा के किनारे बसे मोहल्लों के लोगों को अलर्ट किया गया है. सुरक्षित स्थान पर रखने के इंतजाम किए गए हैं. किसी को किसी भी तरह की दिक्कत नहीं होने दी जाएगी, यह सुनिश्चित किया जा रहा है.

Tags: Flood, Ganga river, Unnao News, UP news, UP news updates

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर