उन्नाव का रेप कांड ही नहीं, ये मामले भी बने थे यूपी में सियासी भूचाल की वजह

हालांकि ये कोई पहला मामला नहीं है जो किसी सत्ताधारी पार्टी के विधायक और रसूख वाले शख्स के लिए फजीहत बनकर आया. पिछले दो दशकों में कई ऐसे मामले हैं जो राजनीतिक गलियारे में सुर्खियां बने.

Mukesh Kumar | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 2, 2019, 12:40 PM IST
उन्नाव का रेप कांड ही नहीं, ये मामले भी बने थे यूपी में सियासी भूचाल की वजह
विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की फाइल फोटो
Mukesh Kumar | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 2, 2019, 12:40 PM IST
उन्नाव के बांगरमऊ से विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से जुड़े केस ने इन दिनों देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश में सियासी भूचाल ला दिया है. लेकिन उन्नाव का केस कोई पहला नहीं है, जिसने यूपी की राजनीति में भूचाल लाने का काम किया हो. पिछले दो दशकों में कई ऐसे मामले हैं जो लंबे समय तक सुर्खियों में रहे.

देश का पीएम तय करने वाले उत्तर प्रदेश में इन दिनों विधायक कुलदीप सेंगर पर लगे गंभीर आरोपों के बाद सियासी गहमागहमी तेज है. उन्नाव की पीड़िता और परिवार के साथ हुई घटना ने इस सियासी भूचाल का ग्राउण्ड तैयार कर दिया है. हालांकि ये कोई पहला मामला नहीं है जो किसी सत्ताधारी पार्टी के विधायक और रसूख वाले शख्स के लिए फजीहत बनकर आया. पिछले दो दशकों में कई ऐसे मामले हैं जो राजनीतिक गलियारे में सुर्खियां बने.

अखिलेश के मंत्री गायत्री प्रजापति पर भी लगा रेप का आरोप

अखिलेश सरकार में ताकतवर मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति पर रेप का आरोप लगा और जेल भी गए. हालांकि बाद में पीड़िता अपने बयान से मुकर गई. सपा सरकार के मंत्री पर आरोप लगने के बाद सियासी बवंडर आ गया और अखिलेश सरकार की खूब किरकिरी हुई थी.

gayatri prajapati
गायत्री प्रजापति


सपा विधायक रेप के आरोप में गए जेल

यूपी के बिजनौर जिले से समाजवादी पार्टी के मौजूदा विधायक मनोज पारस रेप के मामले में कुछ समय पहले ही जेल भेजे गए हैं. पारस समाजवादी पार्टी की सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं. सरकार किसी भी दल की रही हो यूपी में नेताओं पर गंभीर अपराध के आरोप पहले से लगते रहे हैं.
Loading...

मायावती सरकार की भी हो चुकी है किरकिरी

बसपा सरकार के दौरान बांदा की नरैनी सीट से विधायक पुरुषोत्तम नरेश द्विवेदी पर भी रेप का आरोप लगा था और उस समय उत्तर प्रदेश में मायावती सरकार की खूब किरकिरी हुई थी.

कविता चौधरी हत्याकांड से हिली थी मुलायम सरकार

मुलायम मुलायम सरकार के दौरान साल 2006 में मेरठ का कविता चौधरी हत्याकांड भी खूब चर्चा में रहा. पूर्व मंत्री मेराजुद्दीन, तत्कालीन मंत्री चौधरी किरणपाल, पूर्व मंत्री चौधरी बाबूलाल का भी नाम चर्चा में आया था. सेक्स स्कैंडल के खुलासे ने उस वक्त उत्तर प्रदेश का सियासी पारा हाई कर दिया था.

मधुमिता शुक्ल हत्याकांड

यूपी की राजधानी लखनऊ में भी साल 2003 में हुआ मधुमिता शुक्ला हत्याकांड भी सियासी भूचाल का कारण बन चुका है. पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी पर मधुमिता की हत्या कराने का आरोप लगा था और अमरमणि अब भी जेल में हैं. अमरमणि का नाम आने के बाद लखनऊ से लेकर पूर्वांचल और दिल्ली तक इस घटना की गूंज सुनाई दी थी.

madhumita shukla murder case
मधुमिता हत्याकांड में अमरमणि आज भी जेल में बंद हैं.


बहरहाल उन्नाव केस के बाद एक बार फिर उत्तर प्रदेश में जमकर पॉलिटिक्स हो रही है. हालांकि कार्रवाई और मदद के नाम पर यूपी पुलिस की साख पर भी बट्टा लगा है. आलम यह हुआ कि रेप पीड़िता के एक्सीडेंट के बाद सुप्रीम कोर्ट को खुद मामले का संज्ञान लेना पड़ा. जिसके बाद ताबड़तोड़ आदेश जारी किए गए, जिससे इस मामले में न्याय की उम्मीद जगी है.

ये भी पढ़ें:
उन्नाव रेप पीड़िता के पिता की हत्या मामला: CBI ने किया माखी थाने में तैनात पुलिसकर्मियों को किया तलब

प्रियंका गांधी बोलीं- बेपनाह दर्द से लड़ रही है उन्नाव की बेटी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए उन्नाव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 2, 2019, 12:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...