साक्षी महाराज के बदले सुर, कहा- अगर टिकट ना मिला तो भी करूंगा BJP का प्रचार

साक्षी महाराज ने कहा कि मैंने पार्टी को किसी भी तरह की चेतावनी नहीं दी, पार्टी ने मुझसे सलाह मांगी थी जो मैनें दी. मैं पहले भी अपने पार्टी के साथ खड़ा था और आज भी खड़ा हूं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 13, 2019, 4:02 PM IST
साक्षी महाराज के बदले सुर, कहा- अगर टिकट ना मिला तो भी करूंगा BJP का प्रचार
साक्षी महाराज फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: March 13, 2019, 4:02 PM IST
उन्नाव से बीजेपी के सांसद साक्षी महाराज ने टिकट को लेकर पार्टी को चेतावनी दिए जाने की बात को खारिज करते हुए सफाई दी है. साक्षी महाराज ने कहा कि मैंने पार्टी को किसी भी तरह की चेतावनी नहीं दी, पार्टी ने मुझसे सलाह मांगी थी जो मैने दी. मैं पहले भी अपने पार्टी के साथ खड़ा था और आज भी खड़ा हूं. मेरे टिकट को लेकर किसी भी तरह की शंका नहीं है. मुझे विश्वास है उन्नाव से मुझे ही टिकट मिलेगा. यदि किसी स्थिति में पार्टी का टिकट नहीं मिलता है तो भी मैं पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करुंगा.

साक्षी महाराज ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टी गंभीर है. पार्टी ने प्रोफार्मा भेजकर सभी सांसदों से विवरण मांगा था. प्रोफार्मा में मेरे आने से पहले,  वर्तमान और भविष्य कि स्थिति पूछी गई थी. मैंने पार्टी को कोई चेतावनी नहीं दी है, पार्टी ने मुझसे सलाह मांगी थी जो मैंने दी. मुझे पार्टी ने पांच बार सांसद बनाया, मैं एहसान मंद हूं. उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है टिकट मुझे ही मिलेगा, अगर नहीं मिला तो मैं बीजेपी का प्रचार करूंगा.

ये भी पढ़ें- मुजफ्फरनगर दंगे के गवाह की गोली मारकर हत्या, मुकदमा वापसी की मिल रही थी धमकी 

बता दें कि मंगलवार को साक्षी महाराज ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय को पत्र लिखकर एक बार फिर उन्नाव से टिकट देने का अनुरोध किया था. पत्र में बीजेपी सांसद ने उन्नाव लोकसभा सीट का जातीय समीकरण भी बताया. साक्षी महराज ने कहा कि मैंने पार्टी को खड़ा किया है, जिसके पीछे मेहनत और पैसा लगाकर पूरे इलाके में सेवा की है. उन्होंने कहा कि पार्टी कोई और निर्णय लेती है तो इससे कार्यकर्ताओं की भावनाएं आहत होगी.

2014 में साक्षी महाराज को मिली थी बड़ी जीत

उन्नाव सीट मध्य उत्तर प्रदेश की सीट है. जो लखनऊ, कानपुर के राजनीतिक मिजाज से भी प्रभावित होती. पिछली बार मोदी लहर में साक्षी महाराज को बड़ी जीत मिली थी. उनको 43 फीसदी से ज्यादा वोट मिले थे जबकि दूसरे नंबर पर रही समाजवादी पार्टी को मात्र 17.37 फीसदी वोट मिले. आजादी के बाद हुए चुनावों में कांग्रेस लगातार 6 बार इस सीट से जीतती रही और कुल 9 बार यह सीट उसके खाते में जा चुकी है.

ये भी पढ़ें-
 कानपुर में जहरीली शराब से एक और मौत, अब तक 8 लोगों की जा चुकी है जान

लोकसभा चुनाव 2019: 34 बसपा प्रत्याशियों का टिकट 'फाइनल', जल्द होगा ऐलान
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...