मामा ने अपनी जान देकर भांजे को बचाया, कैमरे में कैद हुआ दर्दनाक मंजर

घटना की सूचना गांव वालों ने बिजली विभाग को दी. लेकिन विभाग ने लाइन को बंद करने की जहमत किसी कर्मचारी ने नहीं उठाई और युवक की दर्दनाक मौत हो गई.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 28, 2018, 10:30 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 28, 2018, 10:30 AM IST
भांजे के बचाने के लिए मामा के जान देने की एक घटना सामने आई है. इस दर्दनाक मंजर को कैमरे में कैद कर लिया गया. इन दिनों यह वीडियो वायरल हो रहा है. दरअसल,  उन्नाव में एक बार फिर विद्युत विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिली. यहां जर्जर तार की चपेट में आने से एक युवक की दर्दनाक मौत हो गई.

सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. युवक के मौत का एक लाइव वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें करेंट की चपेट में आने से युवक धू-धू कर जल रहा है. इस घटना को लेकर ग्रामीणों का बिजली विभाग के खिलाफ गुस्सा फूटा है.

घटना की सूचना गांव वालों ने बिजली विभाग को दी, लेकिन विभाग के किसी कमर्मचारी ने लाइन को बंद करने की जहमत हीं उठाई और युवक की दर्दनाक मौत हो गई. जानकारी के मुताबिक कानपुर निवासी अनिल और उसका भांजा हरीश शंकरपुर गांव की ओर आ रहे थे. रास्ते में गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र के ट्रांस गंगा सिटी के पास एचटी लाइन का तार अचानक उनके ऊपर टूट कर गिरने लगा. जिसपर मामा ने भांजे को बचाने के लिए उसे धक्का दे दिया, लेकिन खुद तार की चपेट में आ गया. जिससे उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई.

घटना की सूचना देने के बाद बिजली विभाग के कर्मचारियों ने एचटी लाइन को बंद किया. लेकिन तबतक मामा अनिल की मौत हो चुकी थी. बता दें कि बिजली विभाग की लापरवाही का ये पहला किस्सा नहीं है जब जर्जर तार टूट कर गिरा हो. शुक्रवार को ही सोहरामऊ थाने के सामने एक माॅडल स्कूल पर तार टूट कर गिर गया था जिसमे सैकड़ों बच्चे पढ़ रहे थे और तार गिरने से वहा के पेड़ जल गए थे. हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

(रिपोर्ट: अनुज गुप्ता)

ये भी पढ़ें:

मॉब लिंचिंग: UP पुलिस करेगी 'विशेष टास्क फोर्स' का गठन, एडवाइजरी जारी

यूपी के दौरे पर आज लखनऊ पहुंचेंगे पीएम मोदी, कई कार्यक्रम में लेंगे हिस्सा
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर