दूध की धुली नहीं है कोई पार्टी, कुलदीप सेंगर जैसे नेताओं को पालते-पोसते रहे हैं सभी दल!

अतीक अहमद, मुख्तार अंसारी, रमाकांत, डीपी यादव, धनंजय सिंह और अमरमणि त्रिपाठी जैसे बाहुबली नेताओं को पनाह देती रहीं हैं पार्टियां

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 4:01 PM IST
दूध की धुली नहीं है कोई पार्टी, कुलदीप सेंगर जैसे नेताओं को पालते-पोसते रहे हैं सभी दल!
विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को बीजेपी ने पार्टी से निष्काषित कर दिया है
ओम प्रकाश
ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 4:01 PM IST
यूपी का विधायक कुलदीप सिंह सेंगर कोई पहला बाहुबली नहीं है जो कई पार्टियों की यात्रा कर चुका है. यूपी के अधिकांश ऐसे लोग हैं जिनका सिक्का हर दल में चलता रहा है. जिन्हें आगे बढ़ाने में हर पार्टी का मुखिया सहयोग करता रहा है. संगीन आरोपों से घिरे बाहुबलियों से कोई भी पार्टी परहेज नहीं करती है. भले ही वो दिन रात अपनी राजनीतिक शुचिता की दुहाई क्यों न देती हो. उन्नाव रेपकांड का आरोपी कुलदीप सेंगर कांग्रेस, बसपा और होते हुए भाजपा में आया था. उसे राजनीतिक में लांच करने और आगे बढ़ाने वाली पार्टियां ही आज बीजेपी पर हमलावर हैं.

यूपी की राजनीति में ऐसे नेताओं की लंबी लिस्ट है जिन्होंने जुर्म की दुनिया से निकलकर सियासत में कदम रखा. सियासत में भी उन्होंने अपनी माफिया वाली छवि कायम रखी. इससे वे हमेशा सुर्खियों में रहे. किसी माफिया और बाहुबली ने किसी पार्टी को पैसा दिया तो किसी ने सीट जीतकर उनकी ताकत बढ़ाई. पार्टी कोई भी हो, उसने अपने साथी बाहुबली को तब तक नहीं हटाया जब तक कि किसी कांड को लेकर बवाल न मचा हो. जैसा कुलदीप सेंगर के मामले में बीजेपी ने भी इंतजार किया.

Unnao Rape Case Kuldeep Sengar
उन्नाव रेप केस का मुख्य आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर सीतापुर जेल में बंद है. (फाइल फोटो)


चुनाव आयोग ने पार्टियों से कहा था कि दागी उम्मीदवारों को विज्ञापन देककर बताना होगा कि उनके ऊपर किस तरह के मुकदमें दर्ज हैं. यदि कोई भी पार्टी उनको टिकट देती है तो उस पार्टी को भी इस बात की जानकारी देनी होगी कि कितने मुकदमों में आरोपी व्यक्ति को टिकट दिया है. इसके बावजूद पार्टियों को किसी ऐसे व्यक्ति से परहेज नहीं है. यह अलग विषय है कि कितने लोगों को वे विज्ञापन देखने को मिले, जिनमें चुनाव लड़ने वालों ने बताया हो कि उसके उपर कौन-कौन मामले दर्ज हैं.

राजनीतिक विश्लेषक टीपी शाही कहते हैं कि किसी भी पार्टी को यह कहने का हक नहीं है कि वो साफ-सुथरी है. ज्यादातर बाहुबली नेताओं को उनकी जाति के लोगों का समर्थन मिलता रहा है. उनकी जाति उन्हें आदर्श मानती रही है. जनता में उनकी पकड़ की वजह से राजनीतिक दल उन्हें अपनाते रहे हैं. पार्टियां समझती थीं कि इससे जाति विशेष का वोट मिल जाएगा. चाहे वो वीरेंद्र शाही रहे हों या ओम प्रकाश पासवान. हरिशंकर तिवारी हों या डीपी और रमाकांत यादव. बाहुबलियों को अपना हित साधने के लिए पार्टियों को अपने साथ लेने से कभी परहेज नहीं रहा. इसलिए कोई भी पार्टी दूसरी पार्टी पर आरोप लगाने से पहले अपनी तरफ भी देखे.

unnao rape case, kuldeep singh sengar, sp, bsp, congress, bjp, criminal record holder leader, उन्नाव रेप केस, कुलदीप सिंह सेंगर, समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बीजेपी, आपराधिक छवि के नेता, अमरमणि त्रिपाठी, धनंजय सिंह, राजा भैया, डीपी यादव, मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, रमाकांत यादव, Amarmani Tripathi, Dhananjay Singh, Raja Bhaiya, DP Yadav, Mukhtar Ansari, Atiq Ahmed, Ramakant Yadav, सुप्रीम कोर्ट, सीबीआई, यूपी सरकार, supreme court, up government, up police, उत्तर प्रदेश पुलिस
सपा, बसपा, भाजपा, कांग्रेस सब दलों में हुआ रमाकांत यादव का स्वागत


बाहुबली और उनका राजनीतिक सफर 
Loading...

रमाकांत यादव

पूर्वांचल के बाहुबली नेता रमाकांत यादव आजमगढ़ के रहने वाले हैं. चार बार सांसद रहे हैं. 2019 का लोकसभा चुनाव उन्होंने कांग्रेस की टिकट पर भदोही से लड़ा था. इससे पहले वो समाजवादी पार्टी,बहुजन समाज पार्टी और भारतीय जनता पार्टी में रह चुके हैं.

अतीक अहमद

अतीक अहमद प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की लोकसभा सीट फूलपुर से एमपी रह चुके हैं. यूपी की सियासत में बड़े बाहुबली नेता के तौर पर उनकी पहचान है. उन पर हत्या की कोशिश, अपहरण और हत्या के 40 से अधिक केस दर्ज बताए जाते हैं. पहले उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा. फिर समाजवादी पार्टी में आए. अपना दल में भी रहे.

unnao rape case, kuldeep singh sengar, sp, bsp, congress, bjp, criminal record holder leader, उन्नाव रेप केस, कुलदीप सिंह सेंगर, समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बीजेपी, आपराधिक छवि के नेता, अमरमणि त्रिपाठी, धनंजय सिंह, राजा भैया, डीपी यादव, मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, रमाकांत यादव, Amarmani Tripathi, Dhananjay Singh, Raja Bhaiya, DP Yadav, Mukhtar Ansari, Atiq Ahmed, Ramakant Yadav, सुप्रीम कोर्ट, सीबीआई, यूपी सरकार, supreme court, up government, up police, उत्तर प्रदेश पुलिस
बसपा में रह चुके हैं मुख्तार अंसारी


मुख्तार अंसारी

माफिया-डॉन मुख्तार अंसारी की दबंगई को पूरा यूपी जानता है. अंसारी ने अपनी दबंगई के बल पर ठेकेदारी, खनन और रेलवे ठेकेदारी जैसे कामों में अपना कब्जा जमा रखा है. वो बसपा में रह चुके हैं. निर्दलीय चुनाव लड़ते रहे हैं. उन्होंने कौमी एकता दल नाम की अपनी पार्टी भी बनाई थी.

डीपी यादव

डीपी यादव एक दूधिया थे जो बाद में “बाहुबल” के भरोसे चीनी मिल के मालिक तो बने ही नेता भी बन गए. यहां तक कि राज्य सभा तक में पहुंचे. 80 के दशक में कांग्रेस में शामिल हुए. इसके बाद मुलायम सिंह के संपर्क में आए और समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया. वो बसपा में भी रहे और भाजपा में भी. बाद में अपना राष्ट्रीय परिवर्तन दल नाम की पार्टी भी गठित की.

unnao rape case, kuldeep singh sengar, sp, bsp, congress, bjp, criminal record holder leader, उन्नाव रेप केस, कुलदीप सिंह सेंगर, समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बीजेपी, आपराधिक छवि के नेता, अमरमणि त्रिपाठी, धनंजय सिंह, राजा भैया, डीपी यादव, मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, रमाकांत यादव, Amarmani Tripathi, Dhananjay Singh, Raja Bhaiya, DP Yadav, Mukhtar Ansari, Atiq Ahmed, Ramakant Yadav, सुप्रीम कोर्ट, सीबीआई, यूपी सरकार, supreme court, up government, up police, उत्तर प्रदेश पुलिस
कांग्रेस, सपा, बसपा और भाजपा में रहे हैं डीपी यादव


राजा भैया

हमेशा निर्दलीय चुनाव लड़ने और जीतने वाले रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया की पहचान यूपी के बड़े बाहुबली नेताओं में है. उन पर कई हत्याओं का आरोप है. फिर भी उनकी जरूरत जैसे हर पार्टी को थी. हर पार्टी उनके सामने नतमस्तक होती रही. कल्याण सिंह, मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव, राजनाथ सिंह व राम प्रकाश गुप्त ने उन्हें अपनी कैबिनेट में रखा. फिलहाल उन्होंने अपनी जनसत्ता पार्टी बनाई हुई है.

धनंजय सिंह

धनंजय सिंह जौनपुर के सांसद रह चुके हैं. बाहुबली नेता के तौर पर उनकी पहचान है. उन पर कई आपराधिक केस दर्ज हैं. पहले लोक जनशक्ति पार्टी ने उन्हें चुनाव में समर्थन किया था. फिर वे जनता दल युनाइटेड में आ गए. बसपा की टिकट पर सांसद बने.

unnao rape case, kuldeep singh sengar, sp, bsp, congress, bjp, criminal record holder leader, उन्नाव रेप केस, कुलदीप सिंह सेंगर, समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बीजेपी, आपराधिक छवि के नेता, अमरमणि त्रिपाठी, धनंजय सिंह, राजा भैया, डीपी यादव, मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद, रमाकांत यादव, Amarmani Tripathi, Dhananjay Singh, Raja Bhaiya, DP Yadav, Mukhtar Ansari, Atiq Ahmed, Ramakant Yadav, सुप्रीम कोर्ट, सीबीआई, यूपी सरकार, supreme court, up government, up police, उत्तर प्रदेश पुलिस
बाहुबली और दलबदलू नेताओं में शामिल हैं अमरमणि त्रिपाठी


अमरमणि त्रिपाठी

पूर्वांचल के बाहुबली और दलबदलू नेताओें में अमरमणि त्रिपाठी का भी नाम आता है. उन पर हत्या सहित कई मामले दर्ज हैं. वो कवियित्री मधुमिता शुक्ला की हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं. वो कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी, सपा और भाजपा में रहे हैं. यूपी में जब राजनाथ सिंह की सरकार थी तो उन्हें राज्य मंत्री बनाया गया था.

ये भी पढ़ें:
हरियाणा, महाराष्ट्र, झारखंड में बीजेपी ने बनाया सबसे बड़ी जीत का प्लान!

उन्नाव रेप केस: CBI ने मांगी कुलदीप सेंगर की कस्टडी

 
First published: August 2, 2019, 4:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...