अपना शहर चुनें

States

उन्नाव: तेजस एक्सप्रेस की चपेट में आई बाइक, टला बड़ा हादसा

तेजस एक्सप्रेस की चपेट में आई बाइक (file photo)
तेजस एक्सप्रेस की चपेट में आई बाइक (file photo)

ट्रेन के लेट होने की स्थिति में पैसेंजर्स को पार्शियल रिफंड यानी आंशिक रिफंड किया जाएगा. अगर ट्रेन 1 घंटे से थोड़ी ज्यादा लेट होती है तो यात्रियों को 100 रुपये और दो घंटों से ज्यादा लेट होने पर 250 रुपये का रिफंड दिया जाएगा.

  • Share this:
उन्नाव. भारत की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) शनिवार देर रात उन्नाव के गंगाघाट रेलवे क्रासिंग पर हादसे का शिकार होने से बच गई. सिग्नल होने पर क्रासिंग के बंद फाटक के नीचे निकल रहा युवक गिर पड़ा और बाइक किनारे छोड़कर भाग निकला. ट्रैक किनारे बाइक देखकर लोको पायलट ने तेजस एक्सप्रेस की रफ्तार कम कर दी. इस तरह पायलट की सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया वरना यदि बाइक से तेज रफ्तार ट्रेन टकराती तो कोच में यात्रियों को खतरा हो सकता था.

पायलट ने ट्रेन की रफ्तार धीमी कर दी और परिचालन कंट्रोल को सूचना दी. गेट मैन ने तत्काल बाइक को पटरी किनारे से हटाकर ट्रैक क्लीयर किया. बताया जा रहा है कि बंद रेलवे क्रासिंग से बाइक निकालते समय कोच से बाइक का अगला हिस्सा टकरा कर क्षतिग्रस्त हो गया. रेलवे अधिकारियों का मानना हैं कि ट्रेन आते देख क्रासिंग पर बाइक छोड़कर युवक फरार हो गया. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची आरपीएफ ने बाइक को कब्जे में लेकर जांच शुरू की कर दी है. पुलिस ने बाइक के नंबर के आधार पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है.

दुर्घटनाग्रस्त बाइक
दुर्घटनाग्रस्त बाइक




यात्रियों को मिलेगा मुआवजा
अब इन सभी यात्रियों को लेट होने के कारण मुआवजे के तौर पर 250 रुपये मिलेंगे. आईआरसीटीसी के एक अधिकारी के मुताबिक इस ट्रेन में यात्रा करने वाले सभी यात्रियों के फोन पर एक लिंक भेजा गया है. इस लिंक पर क्लिक कर यात्री मुआवजे की रकम क्लेम कर सकते हैं.

क्या है नियम?
ट्रेन के लेट होने की स्थिति में पैसेंजर्स को पार्शियल रिफंड यानी आंशिक रिफंड किया जाएगा. अगर ट्रेन 1 घंटे से थोड़ी ज्यादा लेट होती है तो यात्रियों को 100 रुपये और दो घंटों से ज्यादा लेट होने पर 250 रुपये का रिफंड दिया जाएगा.

इनपुट- अनुज गुप्ता
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज