साक्षी महाराज के सामने BJP विधायक के गुर्गों ने अधिकारी का पकड़ लिया कॉलर, फिर...

जिस समय ये सब कुछ हुआ उस समय जिले के प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री, सांसद साक्षी महाराज के साथ ही जिले के प्रमुख अधिकारी मौन धारण करे चुपचाप सब कुछ देखते रहे

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 6, 2019, 1:04 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: March 6, 2019, 1:04 PM IST
उन्नाव में विधायक के गुर्गों ने जिला समन्वय समिति की बैठक के दौरान जमकर गुंडागर्दी की. गुर्गों ने समाज कल्याण अधिकारी का कॉलर पकड़ लिया और उनके साथ जमकर मारपीट की. जिस समय ये सब कुछ हुआ उस समय जिले के प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री, सांसद साक्षी महाराज के साथ ही जिले के प्रमुख अधिकारी मौन धारण करे चुपचाप सब कुछ देखते रहे. वहीं बैठक की कवरेज कर रहे पत्रकारों से भी बदसलूकी की गई.

आपको बता दें कि जिला योजना समिति की बैठक का 25 जिला पंचायत सदस्यों ने बहिष्कार किया था और सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन मनमाने रवैये  से नाराज होकर बीच में ही बैठक छोड़कर बाहर आ गए थे. वहीं बड़ा सवाल ये भी है कि जब जिले के विकास की बात हो रही हो तो बंद कमरे में बैठक करना कितना जायज है. वहीं मीटिंग में विधायक के गुर्गों की एंट्री भी प्रशासन की व्यवस्था पर सवाल उठा रही है.

उन्नाव में जिला समन्वय समिति की बैठक गुंडागर्दी की भेंट चढ़ गई. जिला समन्वय समिति की बैठक जिले के प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री और सांसद साक्षी महाराज ले रहे थे. डीएम के साथ ही कई विभागों के अधिकारी और सभी विधायक भी वहां मौजूद थे. इस दौरान पुरवा विधानसभा सभा से विधायक अनिल सिंह की समाज कल्याण अधिकारी से किसी बात को लेकर विवाद हो गया. जिसके बाद विधायक अधिकारी को खुलेआम धमकी देते हुए नजर आए, उन्होंने कहा कि मैं एक-एक को ठीक कर दूंगा.

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध हत्याकांड में 5 पर चार्जशीट, बजरंग दल के नेता को क्लीन चिट

विधायक के इतना बोलते ही बैठक में मौजूद विधायक के गुर्गों ने जिला समाज कल्याण अधिकारी से बदसलूकी करनी शुरू कर दी. एक युवक जिला समाज कल्याण अधिकारी का कॉलर खिंचता हुआ और मारपीट करता हुआ दिखाई दिया. वहीं जिला समन्वय समिति की बैठक में अधिकारी के साथ मारपीट की तस्वीरें कैमरे में कैद होने के बाद विधायक के गुर्गों और अधिकारियों के सुरक्षा कर्मियों ने पत्रकारों से बदसलूकी शुरू कर दी और कवरेज कर रहे पत्रकारों के साथ मारपीट कर दी. इस दौरान जिले के जिम्मेदार अधिकारियों के साथ ही प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री, सांसद साक्षी महाराज मूक दर्शक बने तमाशा देखते रहे.

महेंद्र नाथ पांडेय का मायावती पर तंज, कहा- अखिलेश को बबुआ बनाकर छोड़ेंगी बुआ

वहीं अधिकारियों और नेताओं के दबाव में मारपीट और बदसलूकी का शिकार हुए जिला समाज कल्याण अधिकारी खुद के साथ हुई मारपीट की घटना को भी कैमरे पर नहीं बता सके.। जबकि अधिकारी के साथ हुई मारपीट और बदसलूकी की तस्वीरें कैमरे में कैद हैं.
(अनुज गुप्ता की रिपोर्ट)

लखनऊ में गिरफ्तार दोनों जैश आतंकियों की पुलिस रिमांड खत्म, भेजे गए जेल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...